Timeline UpdatesTrip UpdatesNews PostsPvt PostsTravel TipsAdmin PostsConv PostsFollowed PostsChat RequestsBlog PostsPNR Posts

Disclaimer
Search
 
 
Sun Apr 20, 2014 23:59:37 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsMembersLoginFeedback
Trains in the News **new    Stations in the News **new

News Super Search        show english news only
Page#    151100 news entries  next>>
Today (11:45PM)  Minor fire outside Rajiv Chowk Metro station (www.tribuneindia.com)

back to top
Major Accidents/DisruptionsDMRC/Delhi Metro  -  

News Entry# 174299     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb**  76864 news posts  
New Delhi: A minor fire today broke outside the Rajiv Chowk Metro station here, forcing authorities to halt the train service and close the station for a while.According to fire officials, a rubber mat near gate number 1 and 2 caught fire and thick smoke emanating from it entered the station due to which the fire alarm was sounded at the station.Passengers were evacuated as services were interrupted briefly and later resumed by 1.28 pm.Three fire tenders were rushed to the site and the fire was brought under control.Rajiv Chowk station is a main interchange station on busy Dwarka and Nodia City Centre/Vaishali route (Blue Line) and Jehangirpuri and HUDA City Centre route (Yellow Line).A DMRC spokesperson said that the fire or smoke did not emanate from the Metro system.However, as a precautionary measure the station was closed at 1.22 pm and reopened at 1.28 pm as everything was under...
Read more...
control and safety ensured.The spokesperson claimed that the smoke emanated due to burning of PVC material outside the gate in Central Park, which also opens in the station toward B-block of Connaught place.
Incidentally, "Fire Safety week" is being observed by Delhi Metro from April 14 to April 20.
Earlier, on April 11, passengers noticed sparks and smoke emanating from the last coach of a moving metro train from Jahangirpuri to HUDA City Centre (Yellow Line).
The train was halted between the two stations and the passengers deboarded the train after some sparks were seen in the rear car causing panic among passengers.
Today (11:04PM)  Cops conduct surprise checking at city railway station (www.tribuneindia.com)

back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 174298     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb**  76864 news posts  
Amritsar : Over hundred cops, along with the flying squads constituted by the district administration, today carried out a surprise checking at the Amritsar railway station and Inter-State Bus Terminus to check the misuse of money during the Lok Sabha elections.The police, along with flying squad officials, have erected check posts at various points in the city. The security has also been beefed in the city.Paramapal Singh, ADCP (City -I), along with other police officials, jawans of the Railway Protection Force (RPF) and the Government Railway Police (GRP) conducted a checking at the railway station. They frisked passengers and their luggages.Parampal Singh said the objective of carrying out the surprise check was to ensure foolproof security before the election day.
He said the misuse of money to influence people during elections was a well-known fact and every step was being taken
...
Read more...
to stop the illegal practice.
He said more such raids would be conducted in the days ahead.
Today (10:55PM)  दिन-रात चलने लगी स्वचालित सीढ़ी (www.jagran.com)

back to top
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  

News Entry# 174297     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (10:55PM)
Station Tag: Varanasi Junction/BSB added by Saurabh*^/15807

Posted by: Saurabh*^  664 news posts  
जागरण संवाददाता, वाराणसी : कैंट रेलवे स्टेशन के यात्री हाल में लगी स्वचालित सीढ़ी दिन-रात चल रही है। बस, ऊपर के फर्श को ठीक करके फुटओवर ब्रिज से जोड़ना शेष रह गया है। वैसे, परीक्षण जारी है। सीढ़ी का पावदान लगाने का काम भी पूरा कर लिया गया है। अब सभी को सीढ़ी के चालू होने का इंतजार है। सीढ़ी के चालू होने पर प्लेटफार्म नंबर दो से नौ तक सीधे फुटओवर ब्रिज से जुड़ जाएंगे। इसका लाभ यह होगा कि यात्री ओवरब्रिज की सीढि़यां चढ़े बिना मन चाहे प्लेटफार्म पर जा सकेंगे। फिलहाल, जन आहार केंद्र के सामने से फुटओवर ब्रिज से सीढ़ी जोड़ी जा रही है। प्लेटफार्म नंबर एक पहले की भांति दोनों यात्री हॉल से जुड़ा रहेगा यानी प्लेटफार्म नंबर एक पर जाने के लिए स्वचालित सीढ़ी का उपयोग नहीं करना होगा। रेलवे प्रशासन ने मार्च में ही सीढ़ी को चालू करने की योजना बनाई थी। कई...
Read more...
बाधाओं के कारण अब तक काम पूरा नहीं हो सका। लखनऊ मंडल के सीनियर डीसीएम अश्रि्वनी श्रीवास्तव ने बताया कि उम्मीद है कि चुनाव बाद यात्रियों के लिए स्वचालित सीढ़ी उपलब्ध करा दी जाएगी।
Today (9:57PM)  ...हर्रावाला शिफ्ट नहीं होगा दून रेलवे स्टेशन (www.dehradun.amarujala.com)

back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 174296   Blog Entry# 1065227 **new     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (9:57PM)
Station Tag: Harrawala/HRW added by Nitesh/419944

Apr 20 2014 (9:57PM)
Station Tag: Dehradun/DDN added by Nitesh/419944

Posted by: Nitesh  96 news posts  
राजधानी देहरादून के रेलवे स्टेशन को हर्रावाला शिफ्ट करना रेलवे को मंजूर नहीं है। रेलवे ने जिला प्रशासन और मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) के इस प्रस्ताव को नकार दिया है। रेलवे का मानना है कि स्टेशन को शिफ्ट करने से रेल मुसाफिरों की परेशानियां बढ़ जाएंगी।
जिला प्रशासन, एमडीडीए और पुलिस रेलवे स्टेशन को शहर से बाहर शिफ्ट करने का काफी समय से प्रयास कर रहे हैं। इसके लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों की मुरादाबाद रेलवे मंडल के अफसरों से कई दौर की बातचीत हो चुकी है।
मुसाफिरों की परेशानी बढ़ेगी
दून दौरे पर आए मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम), मुरादाबाद सुधीर अग्रवाल ने ‘अमर उजाला’ को बताया कि दून स्टेशन को हर्रावाला शिफ्ट करना पूरी तरह से अव्यवहारिक है। इससे मुसाफिरों
...
Read more...
की परेशानी बढ़ जाएगी।
इसके अलावा रेलवे को हर्रावाला में भू-अधिग्रहण के लिए भी जटिल प्रक्रिया से गुजरते हुए करोड़ों रुपये खर्च करने होंगे। साथ ही वर्षों पुराने दून स्टेशन की ऐतिहासिक धरोहर के रूप में बनी पहचान पर भी संकट खड़ा हो जाएगा।
दून स्टेशन को मॉडल स्टेशन बनाया जा सकता है। कहा कि हर्रावाला से शहर के विभिन्न इलाकों तक पहुंचने के लिए, रात में खासकर महिला यात्रियों की सुरक्षा के संबंध में खतरा रहेगा।
काफी समय से स्टेशन के विस्तार की मांग
उधर, जिला प्रशासन का तर्क है कि रेलवे स्टेशन के हर्रावाला शिफ्ट होने पर शहर में यातायात की समस्या से काफी हद तक निजात मिल जाएगी। खासतौर पर आढ़त बाजार, गांधी रोड पर अक्सर लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी।
नार्दन रेलवे मेंस यूनियन (नरमू) के शाखा सचिव उग्रसेन सिंह ने बताया कि यूनियन काफी समय से दून रेलवे स्टेशन के विस्तार की मांग कर रही है। दून स्टेशन की क्षमता बढ़ाकर इसे मॉडल स्टेशन के रूप में विकसित किया जा सकता है। इससे देहरादून आने वाली ट्रेनों की संख्या भी बढ़ाई जा सकती है।

198 views
Today (10:28PM)        

msr   384 blog posts   4 correct pred (100% accurate)     Ph:+918533917387
Re# 1065227-1               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.
shift karne se pareshani barhti musafiro ki
Today (9:55PM)  इसके बाद ‌कभी लेट नहीं होगी लिंक एक्प्रेस (www.dehradun.amarujala.com)

back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 174295     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (9:55PM)
Station Tag: Dehradun/DDN added by Nitesh/419944

Apr 20 2014 (9:55PM)
Train Tag: Link Express (Sangam Slip)/14114 added by Nitesh/419944

Posted by: Nitesh  96 news posts  
देहरादून से इलाहाबाद जाने वाली लिंक एक्सप्रेस के समय में बदलाव कर इसे सुबह आठ बजे से चलाए जाने की योजना बनाई जा रही है।
अतिरिक्त ट्रेन का संचालन करने का प्रस्ताव
अगर सब कुछ योजना के मुताबिक हुआ तो जल्द मुरादाबाद रेल मंडल से इस बारे में आदेश हो जाएंगे। रेलवे सूत्रों ने बताया कि गर्मियों में देहरादून से दिल्ली या लखनऊ के लिए एक अतिरिक्त ट्रेन का संचालन करने के प्रस्ताव पर विचार कर रहा है।
दून-दिल्ली के बीच एक अतिरिक्त समर एसी स्पेशल ट्रेन दो अप्रैल से शुरू की जा चुकी है। दूसरी ट्रेन चलाने के लिए लिंक एक्सप्रेस के समय में बदलाव करना रेलवे के लिए फिलहाल सबसे बेहतर विकल्प लग रहा है।
...
Read more...
लिंक एक्सप्रेस अभी दोपहर 1:20 बजे दून से रवाना होती है। नये समय के तहत इस ट्रेन को देहरादून से सुबह आठ बजे इलाहाबाद के लिए रवाना करने का प्रस्ताव है। रेलवे के एक अफसर ने इस तरह के प्रस्ताव मांगे जाने की पुष्टि की है।
दूसरे दिन भी छह घंटे लेट रही लिंक
इलाहाबाद से आने वाली लिंक एक्सप्रेस शनिवार को लगातार दूसरे दिन भी छह घंटे देरी से दून पहुंची। इससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
बीच के स्टेशनों पर ट्रैक खाली न मिलने को देरी से पहुंचने की वजह बताया जा रहा है। इस ट्रेन को दोपहर 1:20 बजे दून पहुंचना होता है। लेकिन लगातार दूसरे दिन ट्रेन साढ़े सात बजे दून पहुंची।
Today (8:11PM)  बेळगावजवळ रेल्वेचा भीषण अपघात टळला (maharashtratimes.indiatimes.com)

back to top
Other NewsCR/Central  -  

News Entry# 174294     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Jayashree▪◙▪Amita**  19728 news posts  
बेळगाव
दैव बलवत्तर होते म्हणून मिरज-बेळगाव पॅसेंजर रेल्वे (क्र. ५१४६१) चा भीषण अपघात टळला. विशेष म्हणजे घडल्या प्रकारची रेल्वेतून प्रवास करणाऱ्या ५०० हून अधिक प्रवाशांना अजिबात कल्पना नव्हती.
आज, रविवारी दुपारी मिरज ते बेळगाव ही रेल्वे पाच्छापूर रेल्वे स्थानकावर आली. त्यावेळी इंजिन चालकाला इंजिन खालून धूर येत असल्याचे ध्यानात आले. इंजिन चालक आणि रेल्वेच्या अन्य कर्मचाऱ्यांनी इंजिनच्या खालच्या भागाची पाहणी केली असता एक्सल रॉड घासत असल्यामुळे धूर येत असल्याचे ध्यानात आले. इंजिन चालकाने रेल्वे थांबविण्यासाठी ब्रेक लावल्यानंतर एक्सल रॉड घासल्यामुळे घर्षण होवून धूर येत होता.
ही घटना घडली त्यावेळी स्टेशन मास्तर रेल्वे स्थानकात नव्हते आणि रेल्वे खात्याचे इतर कर्मचारी घडल्या प्रकारासंबधी माहिती देण्यास तयार नव्हते. रेल्वे खात्याच्या एका कर्मचाऱ्याने आपले नाव गुपित ठेवण्याच्या अटीवर इंजिन चालकाने ब्रेक लावल्यावर एक्सल जम झाला इतकी माहिती
...
Read more...
दिली. बेळगाव स्टेशनवर आल्यावर रेल्वेतील प्रवाशांना घडल्या प्रकारची माहिती मिळाली. केवळ दैव बलवत्तर म्हणून आग लागली नाही. देखभालीची जबाबदारी असणाऱ्यांच्या बेजबाबदार पणामुळे सदर प्रकार घडला अशी प्रतिक्रिया प्रवाशांनी व्यक्त केली.
Today (8:11PM)  :Central Railway to launch 26 summer special trains (www.transreporter.com)

back to top
New/Special TrainsCR/Central  -  

News Entry# 174293     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Jayashree▪◙▪Amita**  19728 news posts  
Central Railway (CR) will run 26 weekly summer special trains between Mumbai and Ernakulam/Kochuveli to clear the extra rush.
Every Tuesday, 01065 Down will leave Lokmanya Tilak Terminus at 1.20pm, from April 29 to May 10, and arrive at Ernakulam at 7pm next day.
Every Wednesday, 01066 Up will leave Ernakulam at 11.30pm from April 30 to June 11, and arrive at LTT at 3.10am on the third day.
Every Friday, 01067 Down will leave LTT at 2.20pm, from May 2 to June 6 and arrive at Kochuveli at 11.30pm next day. Every Sunday, 01068 Up will leave Kochuveli at 12.35am from May 4 to June 8 and arrive at LTT at 5am next day.
Today (7:22PM)  SENKOTTAI-MADURAI PASSENGER TO RUN IN ORIGINAL TIMES (epaper.dinamalar.com)

back to top
Other NewsSR/Southern  -  

News Entry# 174292     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: srinivasvasanthi  397 news posts   Ph:+919489109789
Senkottai-Madurai passenger operated during evening time should be operated to the previous time . The present changed and delayed in Sivakasi-Madurai section arrive Madurai one hour later and very much inconvenient to the passenger.
Today (6:53PM)  CHENNAI METRO EXPEDITED (182.18.151.62)

back to top
New Facilities/TechnologyCMRL/Chennai Metro  -  

News Entry# 174291     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: srinivasvasanthi  397 news posts   Ph:+919489109789
CM informed ,Metro works are expedited .
Today (6:51PM)  इंदौर तक पहुंचा पटरियां उखाड़ने का काम (naidunia.jagran.com)

back to top
Other News

News Entry# 174290   Blog Entry# 1065209 **new     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Jayashree▪◙▪Amita**  19728 news posts  
इंदौर। फतेहाबाद-इंदौर के बीच बिछी 40 किमी लंबी छोटी लाइन उखाड़ने का काम इंदौर तक पहुंच गया है। अब रेलवे पालिया से लक्ष्मीबाई नगर के बीच पटरियां उखाड़ने का काम कर रहा है। काम की गति देखकर लगता है कि 10-15 दिन में इंदौर स्टेशन के पहले तक पटरियां उखाड़ दी जाएंगी। इसी के साथ रेलवे ने बड़ी लाइन के लिए ट्रैक के आसपास नए स्लीपर रखना भी शुरू कर दिए हैं।
फतेहाबाद से पालिया के बीच छोटी लाइन की पुरानी पटरियां उखाड़ी जा चुकी हैं और अब पालिया-लक्ष्मीबाई नगर के बीच करीब 10 किमी भाग में यह काम हो रहा है। सुपर कॉरिडोर रेलवे क्रॉसिंग से लक्ष्मीबाई नगर के बीच लंबे हिस्से में यह नजारा देखा जा सकता है। क्षेत्र में बुलडोजर की मदद से पटरियां उखाड़ी जा रही हैं। हालांकि क्रॉसिंग की सड़क पर बिछी लाइन अभी नहीं उखाड़ी
...
Read more...
गई है लेकिन रोड के दोनों ओर की लाइन उखाड़कर वहीं रख दी गई हैं। अभी इंदौर स्टेशन के आसपास छोटी लाइन नहीं उखाड़ी जाएगी क्योंकि इंदौर स्टेशन से मीटर गेज ट्रेनों का संचालन जारी है। इंजन और ट्रेन के रिवर्सल आदि के लिए यह जरूरी है।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि लाइन उखाड़ने के बाद बड़ी लाइन के हिसाब से अर्थवर्क और जमीन की लेवलिंग (समतलीकरण) का काम होगा। जहां-जहां लाइन उखड़ गई है, वहां यह शुरू भी हो गया है। इसके साथ लाइन के पुराने ब्रिज का चौड़ीकरण और मजबूतीकरण भी हो रहा है। मैदानी हिस्से में स्लीपर बिछाकर बड़ी लाइन बिछाई जाएगी। 24 फरवरी से 62 किमी लंबे इंदौर-फतेहाबाद-उज्जैन रेलखंड को बंद किया गया था। हालांकि अभी काम सिर्फ फतेहाबाद-इंदौर के ही बीच किया जा रहा है।
नहीं आई कन्वर्जन की मंजूरी
काफी इंतजार के बावजूद अब तक पश्चिम रेलवे के पास फतेहाबाद-उज्जैन छोटी लाइन को बड़ी लाइन में बदलने की मंजूरी नहीं आई है। इसकी घोषणा तत्कालीन रेलमंत्री पवन बंसल ने 2013-14 का सालाना रेल बजट पेश करते हुए की थी। उच्च पदस्थ आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक स्वीकृति का मामला अभी भी प्रक्रिया में है। फंड की व्यवस्था हो गई तो जल्द ही इसकी मंजूरी भी दे दी जाएगी। -नगर प्रतिनिधि

362 views
Today (10:05PM)        

आम आदमी ☺ राहुल जैन ® झाडू वाले**   8130 blog posts   14904 correct pred (62% accurate)  
Re# 1065209-1               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.

327 views
Today (10:11PM)        

सचिन शर्मा سچن شرما**   3795 blog posts   60 correct pred (58% accurate)  
Re# 1065209-2               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.
great news
Today (5:19PM)  DLI SMQL SRE route remain closed for 7 hours (royalbulletin.com)

back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 174289     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Royal Jaat  2 news posts   Ph:+919962463714
Today (5:05PM)  खुद की जमीन को कब्जे से नहीं रोक सका रेलवे (www.jagran.com)

back to top
Other NewsNR/Northern  -  

News Entry# 174288     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (5:05PM)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Saurabh*^/15807

Posted by: Saurabh*^  664 news posts  
उत्तर रेलवे से राजधानी में पांच लाख वर्ग मीटर से अधिक जमीन छीन ली गई, मगर रेलवे विभाग कुछ भी नहीं कर सका। इस जमीन पर हजारों अवैध कालोनियां बसा दी गई हैं। रेलवे विभाग लोगों द्वारा कब्जा की गई अपनी जमीन को वापस पाना चाहता है। इसके लिए उसने नगर निगम की मदद लेने के लिए करोड़ों रुपये का भुगतान भी किया। इसके बावजूद पिछले दो वर्षो में रेलवे कब्जाई गई अपनी पूरी जमीन तो दूर की बात, जमीन का पांच फुट हिस्सा तक भी वापस नहीं पा सका है। इसके अलावा रेलवे की जमीन पर 50 हजार के लगभग बिजली के कनेक्शन है। निगम ने भी कई बार कार्रवाई का प्रयास किया, मगर हर बार स्थानीय नेता वोट की राजनीति के चलते अवैध निर्माण हटाने की कार्रवाई के बीच बाधक बन जाते हैं। इस चौंकाने वाले तथ्य का खुलासा खुद उत्तर रेलवे ने सूचना के अधिकार के तहत...
Read more...
मांगी गई जानकारी के जवाब में किया है। लक्ष्मीनगर निवासी नरेंद्र शर्मा ने सूचना के अधिकार के तहत उत्तर रेलवे से जानकारी मांगी थी कि राजधानी में रेलवे की कितनी जमीन पर अन्य लोगों का कब्जा है। उक्त जमीन को कब्जा मुक्त कराए जाने के लिए रेलवे द्वारा कितने रुपये खर्च किए गए और कितनी जमीन वे मुक्त करा पाने में सफल हुए हैं? 46 हजार मकान बने अवैध इसके जवाब में उत्तर रेलवे के जन सूचना अधिकारी ने बताया कि उत्तर रेलवे की दिल्ली में 5 लाख 98 हजार 800 वर्ग मीटर जमीन लोगों द्वारा अवैध कब्जा किया गया है। रेलवे की जमीन पर लोगों द्वारा अवैध कालोनियां व झुग्गी बस्ती बसा दी गई हैं। मौजूदा समय में दिल्ली में रेलवे की जमीन पर कुल 46 हजार 693 अवैध मकान बने हुए हैं। निगम को 11.15 करोड़ का भुगतान इस अवैध कब्जे को हटाने के लिए रेलवे ने दिल्ली नगर निगम से सहायता मांगी थी। इस सहायता के लिए रेलवे ने नगर निगम को 26 मई, 2013 को 11.15 करोड़ रुपये का भुगतान भी किया था। मगर, भुगतान के बावजूद अभी भी स्थिति जस की तस है। उत्तर-पश्चिमी दिल्ली में अधिक अतिक्रमण रेलवे की ओर से दी गई जानकारी में यह भी बताया गया है कि रेलवे की जमीन पर सबसे अधिक अतिक्रमण उत्तर-पश्चिमी दिल्ली में है और उसके बाद दूसरे नंबर पर उत्तरी जिला आता है। वहीं दिल्ली राजस्व विभाग के नई दिल्ली इलाके में रेलवे की जमीन पर सबसे कम अतिक्रमण है।
------बाक्स------- किस हिस्से में कितनी जमीन पर है कब्जा जगह जमीन (वर्ग मीटर में) द. पश्चिमी दिल्ली 58,320 उ. पश्चिमी दिल्ली 2,11,395 उत्तरी दिल्ली 1,18,119 पश्चिमी दिल्ली 7,891 दक्षिणी दिल्ली 1,00973 मध्य दिल्ली 23,775 नई दिल्ली 3000 पूर्वी दिल्ली 42,620 उ. पूर्वी दिल्ली 32,707 ---------- ------- कुल जमीन 5,98,800 --------- -------
Today (5:03PM)  भरोली-पठानकोट कैंट के बीच दोहरीकरण का कार्य पूरा (www.jagran.com)

back to top
New Facilities/TechnologyNR/Northern  -  

News Entry# 174287   Blog Entry# 1065254 **new     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (5:03PM)
Station Tag: Bharoli Junction/BHRL added by Saurabh*^/15807

Apr 20 2014 (5:03PM)
Station Tag: Pathankot Cantt/PTKC added by Saurabh*^/15807

Posted by: Saurabh*^  664 news posts  
विनोद कुमार, पठानकोट पठानकोट कैंट से भरोली जंक्शन के बीच दोहरीकरण का कार्य पूरा कर लिया गया है। भरोली जंक्शन से पठानकोट कैंट तक (नलवा नहर पर बने ब्रिज सहित) कुल 2.06 किलोमीटर तक ट्रैक के दोहरी करण पर लगभग 15 करोड़ रुपये की राशि खर्च हुई है। नलवा नहर पर बने पुल का डिजाइन परेल (महाराष्ट्र) में तैयार किया गया था, जिसे पूरा करने में 14 महीने लगे हैं। 25 टन की क्षमता वाला है पुल कंस्ट्रक्शन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि पुराने पुल के मुकबाले नया पुल ज्यादा मजबूत है। पुराना पुल 22.5 टन की क्षमता वाला था जबकि नया पुल 25 टन क्षमता वाला है, जिसे रेलवे की वर्कशाप में बनाया गया है। जनवरी 2013 में शुरू हुआ था काम उल्लेखनीय है कि वर्ष 2012 के रेल बजट में तत्कालीन रेल मंत्री पवन बंसल ने योजना को हरी झंडी दी थी। जिस पर जनवरी 2013...
Read more...
में काम शुरू हुआ था। डबल ट्रैक बनने से क्या होगा लाभ दोहरीकरण का काम पूरा होने के बाद जहां बार-बार फाटक बंद होने की समस्या से काफी निजात मिलेगी, वहीं जम्मूतवी को जाने वाली गाड़ी को निर्धारित समय से ज्यादा नही रोका जाएगा। रेलवे अधिकारियों का कहना है कि पठानकोट कैंटसे भरोली जंक्शन तक सिंगल लाइन होने की वजह से कई बार गाड़ी को निर्धारित समय से ज्यादा रोकना पड़ता है। लेकिन, डबल लाइन होने के बाद इस समस्या से काफी हद तक छुटकारा मिलेगा। व्यापार मंडल व स्वयं सेवी संस्थाओं ने जताया आभार: व्यापार मंडल पठानकोट के अध्यक्ष राजेश शर्मा, महासचिव रमेश अरोड़ा सहित शहर की धार्मिक व स्वंय सेवी संस्थाओं ने डबल ट्रैक शुरू होने पर बार- बार फाटक बंद होने की संख्या में कमी आएगी जिससे लोगों को काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि रेलवे की भांति पंजाब सरकार भी पठानकोट कैंट फाटक पर आरओबी (रेलवे ओवरब्रिज) की योजना को अमलीजामा पहनाकर फाटक बंद होने की समस्या से छुटकारा दिलाए। ट्रायल के बाद शुरू हो जाएगा परिचालन : उधर, कंस्ट्रक्शन विभाग के एक्सईएन रमेश कुमार का कहना था कि ट्रैक बिछाने का लक्ष्य 31 मार्च तक था जिसे समय पर पूरा कर दिया गया। अब सिग्नल एवं कांटे जोड़ने का काम रह गया है इसके बाद चीफ रेलवे सेफ्टी ट्रैक का इंजन में बैठकर ट्रायल लेंगे और फिट मिलते ही नए ट्रैक पर रेलगाड़ियों का आवागमन शुरू हो जाएगा।

164 views
Today (10:58PM)        

आम आदमी ☺ राहुल जैन ® झाडू वाले**   8130 blog posts   14904 correct pred (62% accurate)  
Re# 1065254-1               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.
Gr8
Today (4:11PM)  Delhi Metro completes 21-metre high cross-over viaduct (www.business-standard.com)

back to top
Other NewsDMRC/Delhi Metro  -  

News Entry# 174285     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Jayashree▪◙▪Amita**  19728 news posts  
The Delhi Metro Sunday announced the completion of its construction of a cross-over viaduct above the existing operational line at east Delhi's Karkarduma Metro station, 21 metres above the ground.
Calling it a rare feat, the Delhi Metro said this is among the first of such achievements as it is poised to repeat similar feats in the construction of its Phase III, slated to be completed by 2016.
"Construction for crossing over of Metro viaduct at the existing Karkarduma Metro station was never an easy task for engineers. It posed numerous challenges to the civil engineers throughout the project as this is one of the highest crossings of Metro line," the Delhi Metro said in a statement.
It added that the elevated viaducts
...
Read more...
of the Phase III of the Delhi Metro would pass over the existing viaducts of the previous two phases at four more locations.
The four locations are: Netaji Subhash Place, Dhaula Kuan, Mayur Vihar-I and Anand Vihar.
"The new Metro line (Majlis Park-Shiv Vihar) is crossing the existing (Vaishali-Dwarka) elevated line at 21 metres above the ground and 10 metres above the existing line. The work was done without disrupting the normal, daily Metro train/passenger services for even a single day," the statement added.
Today (4:04PM)  रेलवे स्टेशन टिकट काउंटर बना पशुओं का आरामगाह (www.jagran.com)

back to top
Other NewsECR/East Central  -  

News Entry# 174281     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (4:04PM)
Station Tag: Ekangarsarai/EKR added by ★··´¯··★ внαяαт внαgүα vι∂нαтα ★··´¯··★**/478688

Posted by: ★··´¯··★ внαяαт внαgүα vι∂нαтα ★··´¯··★**  39 news posts  
संवाद सूत्र, एकंगरसराय (नालंदा) : एकंगरसराय रेलवे स्टेशन में बुनियादी सुविधाओं का घोर अभाव है। सुविधा विहिन इस स्टेशन पर आने वाले यात्रियों को काफी कठिनाई का सामना करना पड़ता है। यात्रियों को मुख्य रूप से शौचालय, पेयजल, सुरक्षा एवं यात्री शेड की आवश्यकता होती है, लेकिन एकंगरसराय रेलवे स्टेशन परिसर में न तो शौचालय की व्यवस्था है और न ही पेयजल की सुविधा हैं। जिसके चलते खास कर महिला यात्रियों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पडता हैं। शेड नहीं रहने के कारण बरसात के मौसम में पानी के कारण एवं गर्मी में धूप के कारण यात्रियों को काफी फजीहत का सामना करना पडता हैं। जबकि फतुहा-इसलामपुर रेल खंड पर एकंगरसराय स्टेशन पर प्रतिमाह लाखों रूपये के राजस्व की आमदनी आरक्षण एवं टिकट से होती हैं। इसके बावजूद रेलवे द्वारा बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में कोई कारगर पहल नहीं किये जाने से यात्रियों में काफी आक्त्रोश व्याप्त...
Read more...
है। कई स्तरों पर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए माग पत्र सौंपी जा चूकी है। खास कर स्टेशन परिसर शाम होते ही अवारा पशुओं के चारागाह में तब्दील हो जाता है। सुरक्षा के नाम पर कोई व्यवस्था न रहने के कारण देर रात पटना से आने वाले लोकल ट्रेन के यात्रियों के साथ लूटपाट एवं छेड़छाड़ की घटना कई बार सामने आ चुकी है। वैसे तो स्थानीय पुलिस बीच-बीच में गश्ती करते रहती हैं लेकिन वह केवल औपचारिकता मात्र रहती है। स्थानीय रेल यात्रियों उपेन्द्र शर्मा, अंजनी सिंह, सत्येन्द्र कुमार सुधीर कुमार, मो.अरमान आलम, मो.फिरोज एवं रोहित कुमार पंडित आदि ने रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों से स्टेशन परिसर पर चाहरदिवारी करने, प्लेटफार्म पर शेड बनाने, शौचालय निर्माण कराने पेयजल सुविधा उपलब्ध कराने, लाईट लगाने एवं परिसर में चौबीस घटे पुलिस की व्यवस्था कराने माग की है।
Today (4:02PM)  टे्रन में किन्नरों से निपटने के लिए हेल्पलाइन जारी (epaper.bhaskar.com)

back to top
New Facilities/TechnologyWR/Western  -  

News Entry# 174280   Blog Entry# 1064849 **new     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (4:02PM)
Station Tag: Ahmedabad Junction/ADI added by विश्व नाथ**/31233

Posted by: विश्व नाथ**  2549 news posts  
टे्रनों में यात्रा करते समय किन्नर आपको परेशान करते हैं, तो डायल करें- १८००२३३०४७३। यात्रियों की सुविधा के लिए आरपीएफ ने यह टोल फ्री नंबर जारी किया है। आरपीएफ की सीनियर डीएसपी सुमति शांडिल्य ने कहा कि टे्रन में मुसाफिरों को किन्नरों के परेशान किए जाने की शिकायत रोजाना मिलती है। विशेषकर अहमदाबाद, मेहसाणा और मुंबई रूट पर। यात्रियों से जबरदस्ती पैसों की मांग करना और अश्लील हरकतें कई बार विवाद का बढ़ा देती हैं। आरपीएफ जब तक कार्रवाई के लिए पहुंचता है, तब तक वे भाग जाते हैं। ऐसे में मुसाफिर अपने आप को असुरक्षित पाते हैं। आरपीएफ ने यह सुविधा पश्चिम डिवीजन में शुरू की है। इसके लिए एक दस्ता बनाया गया है। फोन पर शिकायत मिलते ही दस्ता कार्रवाई के लिए पहुंच जाएगा।

974 views
Today (4:05PM)        

विश्व नाथ**   11502 blog posts   264 correct pred (75% accurate)  
Re# 1064849-1               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.
The Helpline number against Eunuch extortion is 18002330473
It works in WR zone.

404 views
Today (8:51PM)        

ranjitg370   27 blog posts  
Re# 1064849-2               Tags   Past Edits
This is a new feature showing the full history of past edits to this Blog Post. All members will now be able to Edit and refine their past and future Blog Posts with NO time limit.
IR ne sab zones mein aisi helpline shuru karni chahiye taki log safely secure journey kar sake.
Today (3:54PM)  जल संकट झेल रहे रेलवे के सुरक्षा कर्मी (www.jagran.com)

back to top
Other NewsECR/East Central  -  

News Entry# 174275     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: ★··´¯··★ внαяαт внαgүα vι∂нαтα ★··´¯··★**  39 news posts  
संवाद सहयोगी, डुमराव (बक्सर): यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करने वाले डुमराव रेलवे स्टेशन पर तैनात पुलिस कर्मियों को पीने को पानी के लिए भटकना पड़ता है। धूप के बढ़ते तपिश के बीच रेल पुलिस कर्मियों के आवास में पेय जलापूर्ति व्यवस्था बाधित हो गयी है।
जबकि, डुमराव रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर मौजूद नल का पानी महज एक टोटी के अभाव में अनावश्यक बर्बाद होते नजर आता है। नतीजतन पानी का अभाव डुमराव रेलवे स्टेशन के लिए एक गंभीर समस्या बन चुकी है। रेलवे विभाग के क्वार्टर में रहने वाले पुलिस कर्मियों का कहना है कि पानी की किल्लत की समस्या को लेकर संबंधित विभाग के अधिकारी पीडब्लूआई से गुहार लगायी गयी। परंतु, एक पखवारा गुजरने के बाद भी अब तक जलापूर्ति दुरुस्त नहीं हुई। जिससे उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
Today (3:53PM)  India-Bangladesh Railway Talks to Commence Monday (www.newindianexpress.com)

back to top
Other News

News Entry# 174274     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: Jayashree▪◙▪Amita**  19728 news posts  
The annual India-Bangladesh railway cooperation talks will commence Monday in Dhaka to discuss improvement in connectivity between the two neighbours, media reported Saturday.
A three-day additional secretary-level meeting would review railway cooperation between the two countries and "ways and means to improve connectivity and services", bdnews24.com reported citing the Indian high commission in Dhaka.
The Maitree Express currently operates between Dhaka and Kolkata on a regular basis.
The meeting will discuss measures to make travel more convenient and comfortable. 
The Indian high commission said ways of re-opening some old connectivity points such as Birol (Bangladesh)-Radhikapur (India), Chilahati (Bangladesh)-Haldibari (India), and construction of new connectivity points such as Akhaura-Agartala would also be discussed.
Today (3:49PM)  पटना से सूरत के लिए प्रीमियम ट्रेन 23 से (www.jagran.com)

back to top
New/Special TrainsECR/East Central  -  

News Entry# 174272     
   Tags   Past Edits
Apr 20 2014 (3:50PM)
Train Tag: Surat - Patna Premium Special/09055 added by ★··´¯··★ внαяαт внαgүα vι∂нαтα ★··´¯··★**/478688

Posted by: ★··´¯··★ внαяαт внαgүα vι∂нαтα ★··´¯··★**  39 news posts  
पटना : गर्मी की छुट्टी व लगन की भीड़ से परेशान यात्रियों की सुविधा के लिए रेल प्रबंधन ने पटना से सूरत व सूरत से पटना जंक्शन के लिए प्रीमियम ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। 09056-55 नंबर की यह साप्ताहिक ट्रेन 23 अप्रैल से 7 मई तक प्रत्येक बुधवार को चलेगी। वापसी में यह 22 अप्रैल से 6 मई तक प्रत्येक सप्ताह चलेगी। इस बाबत मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अरविन्द कुमार रजक ने बताया कि सूरत से खुलकर यह ट्रेन जलगांव, भूसावल, खांडवा, इटारसी, जबलपुर, मानिकपुर, छेवकी व मुगलसराय ही रुकेगी। इस ट्रेन के लिए आरक्षित टिकट की बुकिंग शुरू हो गई है। इस ट्रेन में एसी टू, एसी थ्री के साथ ही स्लीपर व एसएलआर के कोच लगाए जाएंगे। इस ट्रेन के शुरू होने से पटना से सूरत जाने वाली ट्रेनों में भीड़ कम होगी। वहीं, बंगलोर को जाने वाली प्रीमियम ट्रेन में 24 अप्रैल को कई बर्थ रिक्त...
Read more...
हैं। ट्रेन संख्या 02353 में एसी टू श्रेणी के 76, एसी तृतीय श्रेणी के 305 एवं स्लीपर श्रेणी के 514 बर्थ उपलब्ध हैं। इस ट्रेन की भी बुकिंग जारी है। रजक ने कहा कि प्रीमियम ट्रेनों में यात्रियों को पर्याप्त सुविधाएं मिल रही हैं। भोजन-पानी के साथ ही कंफर्म बर्थ उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इससे प्रमुख ट्रेनों की भीड़ में कमी आने लगी है।
Today (2:43PM)  200 new frisking booths for women in Delhi Metro (economictimes.indiatimes.com)

back to top
Commentary/Human InterestDMRC/Delhi Metro  -  

News Entry# 174271     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb**  76864 news posts  
NEW DELHI: Delhi Metro premises will soon see women commuters being frisked in total privacy as more than 200 new security cabins are being installed for them at the stations of the rapid transport system.The fresh blue-coloured frisking booths are being procured by the Delhi Metro Rail Corporation ( DMRC) and women constables of the CISF will use them to frisk women passengers using the Delhi Metro.In the first phase, these booths will be installed in the Metro stations on the Blue Line (Dwarka Sector-21 to Vaishali/Noida City Centre) and subsequently they will placed at all other stations on the Metro network in the national capital region.Close to 200 such boxes will be installed. "The new infrastructure is part of our enhanced measures to make Metro commuters comfortable and secure. Apart from these new women frisking booths, we have also introduced new mechanisms to fine tune Delhi Metro security services,"...
Read more...
CISF chief Arvind Ranjan told a news agency.The Central Industrial Security Force (CISF) is the mandated security agency to secure the 134 stations of the Delhi Metro against any terror or sabotage attempts and it has deployed close to 5,000 men and women for this task.Close to a dozen such booths have already started functioning and as compared to the previous cloth draped or hard-board made security boxes, these cabins ensure total privacy of the female passengers during frisking.
As part of the new protocols devised in the Delhi Metro by the CISF, security personnel have now begun a 'profiling' of commuters on the basis of which they are subjected to varied level of security checks.
The force, as part of a month-old 'pilot' project to initiate these measures, has initially brought eight Metro stations under its purview.
As part of the new drill, the X-ray baggage screening machines at some select stations are now kept right next to the door-frame metal detectors where the commuters are frisked by CISF jawans.
A security official explained that by this method, the CISF personnel right behind his colleague, who is frisking commuters, is able to clearly analyse the indicators of the metal detector and simultaneously also gives time to the personnel to intelligently profile a suspect.
Once the 'pilot' project reaches an optimum level and is seen to be successful, Ranjan said, more Metro stations would be brought under the new security protocols mechanism.
Under this plan, the CISF has also deputed a select group of its personnel and officers who roam around in these select Metro stations talking to commuters about following few norms mandated for the security of passengers like making a queue while going for personal frisking and observance of rules on platforms.
Passengers at eight stations- Dwarka Sector 8, 12, 13 and 14, Yamuna Bank, Civil Lines, Vidhan Sabha and Race Course- are being urged to cooperate with the CISF personnel and urged to follow some routine courtesy and safety drills like standing behind the precautionary 'yellow line' when the train rolls in the station and allowing passengers to de-board first before hopping in.
The force is gearing up to the new measures as footfalls on the Delhi Metro are increasing everyday with close to 25 lakh people using the mass rapid rail network each day across stations spread in the national capital region including Noida, Ghaziabad, Gurgaon and Faridabad.
Page#    151100 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom