Disclaimer   
News Super Search
 ♦ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Search  
 
Fri Feb 24, 2017 11:50:59 ISTHomeTrainsΣChainsAtlasPNRForumGalleryNewsFAQTripsLoginFeedback
Fri Feb 24, 2017 11:50:59 IST
Advanced Search
Trains in the News    Stations in the News   
Page#    277580 news entries  <<prev  next>>
  
Yesterday (19:23)  दिन-ब-दिन बढ़ रही सुरंग काम से संतुष्ट नजर आए मेट्रोमैन (epaper.jagran.com)
back to top
New Facilities/TechnologyLMRC/Lucknow Metro  -  

News Entry# 294629   Blog Entry# 2176165     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:23)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
विधानभवन के आगे पहुंची टनल बोरिंग मशीन, तीन माह में हजरतगंज पहुंच जाएगी
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, लखनऊ : नार्थ-साउथ कॉरीडोर के भूमिगत स्टेशनों की रफ्तार बढ़ने लगी है। सचिवालय स्टेशन से टीबीएम जैसे-जैसे आगे बढ़ती जा रही है, उसी रफ्तार में सुरंग की लंबाई भी बढ़ती जा रही है। वर्तमान में विधानभवन के आगे टीबीएम पहुंच चुकी है और 80 मीटर तक सुरंग बन चुकी है। लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन की मंशा है कि कार्यदायी संस्था आगामी ढाई से तीन माह में हजरतगंज तक पहुंच जाए। उधर हजरतगंज और
...
more...
हुसैनगंज में बनने वाली टनल का काम भी मार्च में शुरू कर दिया जाएगा। 1लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) की मंशा है कि सुरंग बनाने के साथ-साथ रिंग डालने का काम भी किया जाए। कार्यदायी संस्थाएं उसी तर्ज पर काम भी कर रही हैं। भूमिगत स्टेशनों का काम देख रहे अफसरों के मुताबिक 3.62 किमी. की सुरंग बनने के बाद ट्रैक बिछाने का काम शुरू कर दिया जाएगा। अधिकारियों का तर्क है कि ट्रैक बिछाने का काम तीन सप्ताह में पूरा कर लिया जाएगा। ओवरहेड इलेक्टिक वायर का काम भी साथ-साथ होता जाएगा। 1मेट्रोमैन को बताई ट्रेन की पोजिशन1लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) के प्रबंध निदेशक कुमार केशव की टीम ने मेट्रोमैन ई. श्रीधरन के सामने मेट्रो द्वारा अभी तक हुए कार्यो की पूरी रिपोर्ट रखी। प्रजेंटेशन में बताया कि किन स्टेशनों पर कितना काम हो गया है और बचा हुआ कार्य कितने दिनों में पूरा कर लेंगे। रोलिंग स्टाक की टीम ने बताया कि मेट्रो कोच की दूसरी खेप फरवरी के अंतिम सप्ताह में चलेगी और मार्च के पहले सप्ताह तक लखनऊ आ जाएगी। इसके बाद लखनऊ डिपो में मेट्रो कोचों को 26 मार्च से पहले पहले कमर्शियल संचालन के लिए तैयार कर लिया जाएगा। 1जागरण संवाददाता, लखनऊ : नार्थ-साउथ कॉरीडोर के भूमिगत स्टेशनों की रफ्तार बढ़ने लगी है। सचिवालय स्टेशन से टीबीएम जैसे-जैसे आगे बढ़ती जा रही है, उसी रफ्तार में सुरंग की लंबाई भी बढ़ती जा रही है। वर्तमान में विधानभवन के आगे टीबीएम पहुंच चुकी है और 80 मीटर तक सुरंग बन चुकी है। लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन की मंशा है कि कार्यदायी संस्था आगामी ढाई से तीन माह में हजरतगंज तक पहुंच जाए। उधर हजरतगंज और हुसैनगंज में बनने वाली टनल का काम भी मार्च में शुरू कर दिया जाएगा। 1लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) की मंशा है कि सुरंग बनाने के साथ-साथ रिंग डालने का काम भी किया जाए। कार्यदायी संस्थाएं उसी तर्ज पर काम भी कर रही हैं। भूमिगत स्टेशनों का काम देख रहे अफसरों के मुताबिक 3.62 किमी. की सुरंग बनने के बाद ट्रैक बिछाने का काम शुरू कर दिया जाएगा। अधिकारियों का तर्क है कि ट्रैक बिछाने का काम तीन सप्ताह में पूरा कर लिया जाएगा। ओवरहेड इलेक्टिक वायर का काम भी साथ-साथ होता जाएगा। 1मेट्रोमैन को बताई ट्रेन की पोजिशन1लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (एलएमआरसी) के प्रबंध निदेशक कुमार केशव की टीम ने मेट्रोमैन ई. श्रीधरन के सामने मेट्रो द्वारा अभी तक हुए कार्यो की पूरी रिपोर्ट रखी। प्रजेंटेशन में बताया कि किन स्टेशनों पर कितना काम हो गया है और बचा हुआ कार्य कितने दिनों में पूरा कर लेंगे। रोलिंग स्टाक की टीम ने बताया कि मेट्रो कोच की दूसरी खेप फरवरी के अंतिम सप्ताह में चलेगी और मार्च के पहले सप्ताह तक लखनऊ आ जाएगी। इसके बाद लखनऊ डिपो में मेट्रो कोचों को 26 मार्च से पहले पहले कमर्शियल संचालन के लिए तैयार कर लिया जाएगा। 1कृष्णानगर स्टेशन का निरीक्षण करते मेट्रोमैन ई.श्रीधरनतेजी से चल रहा मेट्रो के लिए टनल बनाने का काम ’ जागरणमेट्रोमैन लखनऊ मेट्रो रेल कॉरपोरेशन द्वारा कराए गए अभी तक के कार्यो से संतुष्ट हैं। उन्होंने एलएमआरसी के प्रबंध निदेशक से मेट्रो ट्रेन के ट्रायल की स्थिति जानी और बची हुई औपचारिकताएं समय से पहले पूरे करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मार्च के दूसरे सप्ताह तक ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग मेट्रो स्टेशन के बीच सभी बचे हुए काम पूरे कर लिए जाएं। फिर जो काम छूट गए हों, उन्हें दो से तीन दिन में कर लिया जाए। एलएमआरसी के प्रधान सलाहकार ने एलएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव के साथ कृष्णानगर मेट्रो स्टेशन का निरीक्षण किया और मवैया में बनाए गए 255 मीटर लंबे स्पेशल स्पैन को भी देखा। उन्होंने स्पैन का काम समय से पहले करने पर एलएमआरसी टीम को बधाई दी। अफसरों ने बताया कि वह स्पैन के ऊपर ट्रायल भी कर चुके हैं। इस पर उन्होंने टीम को बधाई दी। निरीक्षण के दौरान प्रबंधक निदेशक कुमार केशव, निदेशक दलजीत सिंह, महेंद्र कुमार व कार्यदायी संस्था के अधिकारी उपस्थित थे।

  
425 views
Today (02:00)
Trip to Nani Ghar aka Barauni^~   30246 blog posts   22623 correct pred (75% accurate)
Re# 2176165-1            Tags   Past Edits
Lucknow to also focus on roadways, they must improve their traffic and city buses
  
Yesterday (19:16)  कैबवे विस्तार से भी दूर न हो सकी मुसीबत (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 294628     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:16)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:16)
Station Tag: Lucknow Junction NER/LJN added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
बूथ हटाने का निर्देश1पूवरेत्तर रेलवे के एडीआरएम मुकेश ने लखनऊ जंक्शन का दौरा किया। उन्होंने कैबवे के बूथ को वहां से हटाने के निर्देश दिए। हालांकि बूथ का ठेका हासिल करने वाला ठेकेदार बूथ को वहां से हटाने को तैयार नहीं है।
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, लखनऊ : शताब्दी और पुष्पक एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के यात्रियों को स्टेशन छोड़ने आने वाले उनके परिचितों की मुसीबतें अब भी कम नहीं हो सकी हैं। रेलवे ने रुकावट बने उत्तरीय रेलवे मजदूर यूनियन के दफ्तर को तो हटा दिया, लेकिन अब यहां पर
...
more...
अवैध रूप से वाहनों की पार्किंग शुरू हो गई है, जिसके चलते अब भी जाम लग रहा है। 1दरअसल, लखनऊ जंक्शन के कैबवे से प्लेटफार्म नंबर छह तक जाने के लिए दो रास्ते हैं। एक तो चारबाग स्टेशन से पार्सल घर के के सामने से और दूसरा मवैया से होकर जाता है। पार्सल घर के सामने से कैबवे का रास्ता बहुत सकरा हो गया था। कैबवे के बीच में यूनियन का दफ्तर आ रहा था। रेलवे जीएम के आदेश के बाद यूनियन के दफ्तर को तोड़ दिया गया। सड़क को चौड़ा भी कर दिया, लेकिन अब यहां पर वाहनों का जमावड़ा लगा रहता है। हालत यह है कि जिस संकरी सड़क से पहले वाहन गुजरते थे, उसी से अब भी यातायात गुजर रहा है। यूनियन के जिस हिस्से को तोड़ा गया था, वहां सड़क बना दी गई है। लिहाजा सेकेंड क्लास पोर्टिको से लेकर पार्सल घर तक सड़क चौड़ी हो गई है। करीब 20 फीट चौड़ी एक की सड़क पर दोनों दिशाओं के वाहन गुजरते हैं। इससे कई बार जाम लग जाता है। पार्सल घर में बने एक हिस्से को रेलवे ने तोड़ भी दिया है, जिससे ऊंचाई वाले वाहन, बस और ट्रक आसानी से कैबवे तक पहुंच सके। फिलहाल रेलवे प्रशासन यात्रियों को हो रही मुसीबतों को देखकर भी मौन है। इस बारे में उत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के सीनियर डीसीएम शिवेंद्र शुक्ल का कहना है कि कैबवे का विस्तार यात्रियों के सुगम यातायात के लिए किया गया है। वहां वाहन खड़ा करना गलत है। जल्द ही वाहन खड़ा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी।
  
Yesterday (19:16)  ट्रेन में स्तनपान के लिए होगा आंचल कक्ष (epaper.jagran.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 294627   Blog Entry# 2176116     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:16)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:16)
Station Tag: Moradabad Junction/MB added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
प्रदीप चौरसिया ’मुरादाबाद 1ट्रेनों की स्पीड के साथ यात्री सुविधाओं को बढ़ाने के लिए सरकार पूरा जोर दे रही है। इसके तहत महिला रेल यात्रियों को जल्द ही आंचल कक्ष की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी ताकि मासूम बच्चे मां के दूध से वंचित न रह सकें। 1पिछले साल सरकार ने कामकाजी महिलाओं को कार्यालय में शिशु को स्तनपान कराने क्भ् विशेष व्यवस्था मुहैया कराने के निर्देश दिए थे। हवाई अड्डे और सभी बड़े रेलवे स्टेशनों के वेटिंग हॉल में आंचल कक्ष बनाए गए हैं। अब ट्रेनों में भी आंचल कक्ष की व्रूवस्था हो रही है। 1रेलवे के आकड़ों के अनुसार देश में कुल रेल यात्रियों में से 37 फीसद महिलाएं हैं। इनमें से 15 फीसद महिलाओं के साथ छोटे बच्चे होते हैं। खुले में स्तनपान कराने में महिलाओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसको देखते हुए रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में विशेष सुविधा शुरू करने की योजना बनाई...
more...
है। इसके लिए स्लीपर कोच में एक बर्थ आरक्षित कर उसे आंचल कक्ष नाम दिया जाएगा। इस बर्थ में पर्दा भी लगाया जाएगा और कोच के बाहर आंचल कक्ष लिखा होगा। आरक्षित कोच आपस में जुड़े होते हैं। ऐसे में किसी भी कोच में बैठी महिला आसानी से वहां पहुंचकर शिशु को स्तनपान करा सकती है। वहीं जनरल कोच की महिला बोगी में भी यही सुविधा मुहैया होगी। इससे महिलाओं को काफी सुविधा होगी क्योंकि अभी तक ऐसी व्यवस्था के बारे में सोचा नहीं गया था। माना जा रहा है कि अगले वित्तीय वर्ष से ट्रेनों में आंचल कक्ष का निर्माण शुरू हो जाएगा। 1प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक विवेक शर्मा ने बताया कि मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों में आंचल कक्ष बनाया जा चुका है। रेलवे बोर्ड के आदेश के बाद ट्रेनों में भी आंचल कक्ष बनाया जाएगा।प्रदीप चौरसिया ’मुरादाबाद 1ट्रेनों की स्पीड के साथ यात्री सुविधाओं को बढ़ाने के लिए सरकार पूरा जोर दे रही है। इसके तहत महिला रेल यात्रियों को जल्द ही आंचल कक्ष की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी ताकि मासूम बच्चे मां के दूध से वंचित न रह सकें। 1पिछले साल सरकार ने कामकाजी महिलाओं को कार्यालय में शिशु को स्तनपान कराने क्भ् विशेष व्यवस्था मुहैया कराने के निर्देश दिए थे। हवाई अड्डे और सभी बड़े रेलवे स्टेशनों के वेटिंग हॉल में आंचल कक्ष बनाए गए हैं। अब ट्रेनों में भी आंचल कक्ष की व्रूवस्था हो रही है। 1रेलवे के आकड़ों के अनुसार देश में कुल रेल यात्रियों में से 37 फीसद महिलाएं हैं। इनमें से 15 फीसद महिलाओं के साथ छोटे बच्चे होते हैं। खुले में स्तनपान कराने में महिलाओं को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसको देखते हुए रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में विशेष सुविधा शुरू करने की योजना बनाई है। इसके लिए स्लीपर कोच में एक बर्थ आरक्षित कर उसे आंचल कक्ष नाम दिया जाएगा। इस बर्थ में पर्दा भी लगाया जाएगा और कोच के बाहर आंचल कक्ष लिखा होगा। आरक्षित कोच आपस में जुड़े होते हैं। ऐसे में किसी भी कोच में बैठी महिला आसानी से वहां पहुंचकर शिशु को स्तनपान करा सकती है। वहीं जनरल कोच की महिला बोगी में भी यही सुविधा मुहैया होगी। इससे महिलाओं को काफी सुविधा होगी क्योंकि अभी तक ऐसी व्यवस्था के बारे में सोचा नहीं गया था। माना जा रहा है कि अगले वित्तीय वर्ष से ट्रेनों में आंचल कक्ष का निर्माण शुरू हो जाएगा। 1प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक विवेक शर्मा ने बताया कि मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों में आंचल कक्ष बनाया जा चुका है। रेलवे बोर्ड के आदेश के बाद ट्रेनों में भी आंचल कक्ष बनाया जाएगा।

  
452 views
Yesterday (23:59)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11981 blog posts   3039 correct pred (65% accurate)
Re# 2176116-2            Tags   Past Edits
Iska reply mushkil h dost
  
Yesterday (19:14)  रेलवे डेवलपमेंट अथॉरिटी के गठन पर फिरा पानी (epaper.navbharattimes.com)
back to top
IR AffairsNR/Northern  -  

News Entry# 294626     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:14)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:14)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
nविस, नई दिल्ली : रेलवे में रेगुलेटर नियुक्त करने के इरादे से बनाई जा रही रेलवे डेवलपमेंट अथॉरिटी के गठन में नीति आयोग के दखल के बाद अफसरों की उम्मीदों पर पानी फिरता नजर आ रहा है। अथॉरिटी के गठन के लिए रेलवे ने जो तरीका सुझाया था और इस अथॉरिटी के चेयरमैन व मेंबर्स के लिए जो योग्यता रखने का प्रस्ताव किया गया था, उन दोनों को ही नीति आयोग ने बदल दिया। इन बदलावों में एक बदलाव ऐसा भी है, जिससे कि अफसरों का इस अथॉरिटी में मेंबर या चेयरमैन बनना आसान नहीं होगा। अब अथॉरिटी के गठन के मामले में जो नोट बनाकर कैबिनेट को भेजा गया है, उसमें ये दोनों ही बदलाव किए गए हैं।
संसद में
...
more...
बिल लाने का प्रावधान : अथॉरिटी के गठन के बारे में अब कैबिनेट को जो प्रस्ताव भेजा गया है, उसमें प्रावधान किया गया है कि इसके गठन के लिए संसद में बिल लाया जाए। इससे पहले रेलवे का तर्क था कि इस अथॉरिटी का गठन प्रशासनिक आदेश के जरिए ही किया जाए। लेकिन नीति आयोग का कहना है कि ऐसा होने से अथॉरिटी पूरी तरह से स्वतंत्र नहीं होगी और उसमें रेलवे के अफसरों का दखल रहेगा।
  
Yesterday (19:12)  10 दिन में दौड़ने लगेगी पहली अंत्योदय एक्स., पहली ट्रेन लोकमान्य तिलक और टाटा नगर के बीच दौड़ेगी। (epaper.navbharattimes.com)
back to top
New/Special TrainsSER/South Eastern  -  

News Entry# 294625   Blog Entry# 2175974     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:12)
Station Tag: Chennai Central/MAS added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:12)
Station Tag: Lokmanya Tilak Terminus/LTT added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:12)
Station Tag: Tatanagar Junction/TATA added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
पिछले रेल बजट में सात रूटों पर अनरिजर्व ट्रेनें चलाने की हुई थी घोषणा•विस, नई दिल्ली : देश की पहली अनरिजर्व अंत्योदय ट्रेन तैयार है और उम्मीद की जा रही है कि अगले दस दिनों में इसका संचालन शुरू हो जाएगा। माना जा रहा है कि पहली ट्रेन लोकमान्य तिलक और टाटा नगर के बीच दौड़ेगी। इसके बाद दूसरी अंत्योदय ट्रेन को सांतरागाच्छी से चेन्नै सेंट्रल तक चलाई जा सकती है। बुधवार को रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पहली अंत्योदय ट्रेन का जायजा लिया।
किराया 7 से 10 फीसद अधिक : रेल मंत्री ने पिछले रेल बजट में सात रूटों पर अंत्योदय ट्रेनें चलाने का ऐलान किया था। ये ट्रेनें पूरी तरह से अनरिजर्व होंगी, लेकिन इनका लुक मौजूदा अनजरिजर्व ट्रेनों से
...
more...
अलग होगा। इन ट्रेनों में कुछ नई सुविधाएं भी जोड़ी गई हैं। इस वजह से माना जा रहा है कि अंत्योदय ट्रेन का किराया अन्य ट्रेनों के मुकाबले सात से दस फीसदी तक अधिक होगा। हालांकि इसके किराए के बारे में अभी औपचारिक ऐलान किया जाना है।
ट्रेन में एलएचबी कोच की सुविधा : सूत्रों का कहना है कि 22 कोच वाली इस ट्रेन में सबसे अलग बात यह है कि इसमें सभी एलएचबी कोच लगाए गए हैं। अब तक अनरिजर्व ट्रेनों में सीटें लकड़ी की होती हैं, लेकिन इसमें कुशनदार सीटें लगाई गई हैं। ट्रेन के बाहरी हिस्से में लाल और पीला कलर किया गया है, जो दूर से ही चमकता है। ट्रेन पर पेंट के साथ ही एंटी ग्रेफिटी भी की गई है, जिससे न तो उसे खरोचा जा सकेगा और न ही उसे गंदा करना आसान होगा। इस ट्रेन के हर कोच में सौ पैसेंजरों के बैठने की व्यवस्था तो है ही, साथ ही कोच में 20 चार्जिंग पॉइंट लगाए गए हैं। ट्रेन के सारे कोच एक दूसरे से जुड़े होंगे। इसके अलावा कोच में बायोटॉयलेट लगाए गए हैं और विमान की तरह ही बाहर लगी लाइट से ही पता चल जाएगा कि टॉयलेट खाली है या नहीं।

1 posts - Yesterday - are hidden. Click to open.

  
548 views
Today (00:24)
☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~   11981 blog posts   3039 correct pred (65% accurate)
Re# 2175974-2            Tags   Past Edits
Paper wale bole to 1 month se jiyada lagega

  
59 views
Today (11:21)
SGNR HS Inaugural 27 Feb^~   78738 blog posts   5089 correct pred (78% accurate)
Re# 2175974-3            Tags   Past Edits
Abhi Delhi me hai. Either Tata ayegi ya phir Mumbai jayegi waha se start hogi

  
67 views
Today (11:21)
Aditya   3061 blog posts   14171 correct pred (78% accurate)
Re# 2175974-4            Tags   Past Edits
1 महीना भी नहीं लगेगा,आज सुबह अथर्व यादव भाई ने आगरा छावनी पर द.पू.रे अंकित अंत्योदय एक्सप्रेस के रैक को स्पॉट किया,वो कलिंग उत्कल एक्सप्रेस के रूट से टाटानगर आ रही है😊

  
61 views
Today (11:22)
Aditya   3061 blog posts   14171 correct pred (78% accurate)
Re# 2175974-5            Tags   Past Edits
वैसे टाटानगर से ही शुरू होगी.

  
55 views
Today (11:25)
SGNR HS Inaugural 27 Feb^~   78738 blog posts   5089 correct pred (78% accurate)
Re# 2175974-6            Tags   Past Edits
Good news..
Sabse achi baat hai ki GKP se start nahi ho Rahi waise bhi First Humsafar Apni punctuality ke liye badnaam hai bahut.
Prabhu khud pareshaan hai HS ke delay se

  
59 views
Today (11:26)
Aditya   3061 blog posts   14171 correct pred (78% accurate)
Re# 2175974-7            Tags   Past Edits
बस टाटा जा रही है यही बहुत है.

  
24 views
Today (11:39)
Just waiting for Tata LTT antyodya~   36 blog posts
Re# 2175974-8            Tags   Past Edits
Bs iske rakes ko washing line k last line PE na rakhe .. coach maintainace shed k pas rakhe.. pics Lene me asani hogi😀
  
Yesterday (19:11)  जीएम के दौरे से पहले दुरुस्त करें खामियां,पूवरेत्तर रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक ने बुधवार को गोंडा जंक्शन पर यात्री सुविधाओं का लिया जायजा निर्देश (epaper.jagran.com)
back to top
Other NewsNER/North Eastern  -  

News Entry# 294624     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:11)
Station Tag: Gonda Junction/GD added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Feb 23 2017 (19:11)
Station Tag: Gonda MG/GNAN added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
आदर्श जंक्शन पर बुक स्टाल की छत तोड़कर चोरी1संवाद सूत्र, गोंडा: गोंडा जंक्शन पर सुरक्षा के तमाम दावों के बाद भी चोरों के हौसले बुलंद हैं। मंगलवार की रात चोरों ने प्लेटफार्म नंबर एक पर स्थित बुक स्टाल की छत को तोड़कर बीस हजार रुपये की नकदी चोरी कर ली। इसकी तहरीर जीआरपी को दी गई है। 1नगर कोतवाली के आवास विकास कालोनी निवासी उज्जव पांडेय ने जीआरपी को दी गई तहरीर में कहा कि प्लेटफार्म नंबर एक के पूर्वी छोर पर उसका बुक स्टाल है। जहां पर वह पेपर, किताब व मैगजीन की बिक्री करता है। उसने कहा है कि मंगलवार की रात करीब नौ बजे वह बुक स्टाल बंद करके घर चला आया। उस वक्त स्टाल के कैश काउंटर में बीस हजार रुपये नकद थे। रात में चोरों ने बुक स्टाल के ऊपर से छत तोड़कर बीस हजार रुपये चुरा लिए। उसने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की...
more...
है।
पूवरेत्तर रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक ने बुधवार को गोंडा जंक्शन पर यात्री सुविधाओं का लिया जायजा
निर्देश
संसू, गोंडा: पूवरेत्तर रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक आलोक कुमार सिंह ने बुधवार को गोंडा जंक्शन पर यात्री सुविधाओं का जायजा लेते हुए दिया है कि मार्च माह में प्रस्तावित जीएम के भ्रमण से पहले ही सारी कमियों को ठीक कर लिया जाय। उस दौरान अगर कोई भी खामी मिलती है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 1डीआरएम ने सबसे पहले गोंडा जंक्शन के सरकुलेटिंग एरिया के साथ ही स्टेशन अधीक्षक कार्यालय का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने यात्री प्रतीक्षालय का जायजा लेने के साथ ही अन्य सुविधाओं का दिया। फुट ओवर ब्रिज व प्लेटफार्मों की सफाई व्यवस्था के साथ ही निर्माणाधीन स्वचलित सीढ़ी, लिफ्ट व आरआरआई बिलिं्डग का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिए।1 निरीक्षण के दौरान सीएमएस डॉ. आरसी लोहानी, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक नीलिमा सिंह, एरिया मैनेजर शिवेंद्र प्रताप सिंह, स्टेशन अधीक्षक एएन मिश्र सहित कई अन्य लोग अन्य मौजूद थे।गोंडा रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करते डीआरएम आलोक सिंह ’जागरण
  
Yesterday (19:06)  मेट्रो मैन ने किया निरीक्षण, 26 मार्च से ही चलेगी मेट्रो (epaper.navbharattimes.com)
back to top
Commentary/Human InterestLMRC/Lucknow Metro  -  

News Entry# 294622     
   Tags   Past Edits
Feb 23 2017 (19:06)
Station Tag: Lucknow Charbagh NR/LKO added by ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~/206964

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
मेट्रो मैन ई श्रीधरन ने बुधवार को ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक मेट्रो रूट का निरीक्षण किया। उन्होंने कृष्णानगर मैट्रो स्टेशन, मवैया के स्पेशल स्पैन का काम देखा। मेट्रो अधिकारियों के मुताबिक 26 मार्च से मेट्रो चलाने की तैयारियों पर ई-श्रीधरन ने संतोष जताते हुए टीम को बधाई भी दी है। निरीक्षण के बाद श्रीधरन ने अधिकारियों के साथ मेट्रो ऑफिस गोमती नगर में बैठक कर प्रॉजेक्ट की समीक्षा भी की। इसमें एलएमआरसी के एमडी कुमार केशव के साथ सभी वर्क डायरेक्टर मौजूद रहे।
  
Yesterday (19:02)  पूवरेत्तर रेलवे-होली में दस स्पेशल ट्रेनों की सौगात (epaper.jagran.com)
back to top
New/Special TrainsNER/North Eastern  -  

News Entry# 294621     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: ☆अलविदा गोंडा मीटरगेज■☆*^~  5006 news posts
मंडल रेल प्रबंधक ने किया स्टेशन का निरीक्षण
Click here to enlarge image
जागरण संवाददाता, गोरखपुर : होली पर यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने दस जोड़ी स्पेशल गाड़ियां चलाने की घोषणा की है। गोरखपुर से सीधे लोकमान्य तिलक, आनंदविहार और चंडीगढ़ के बीच गाड़ियां चलेंगी। अन्य गोरखपुर के रास्ते चलाई जाएंगी। ट्रेनों में आरक्षित टिकटों की बुकिंग भी शुरू हो चुकी है। 1चलने वाली स्पेशल ट्रेनें 1’ 04923 नंबर की ट्रेन गोरखपुर से दस मार्च से 30 जून तक प्रत्येक शुक्रवार को चलेगी। यह ट्रेन लखनऊ, बरेली, अंबाला
...
more...
के रास्ते चंड़ीगढ़ पहुंचेगी, जिसमें साधारण के अलावा स्लीपर और एसी बोगियां लगेंगी। 1’ 04924 नंबर की ट्रेन चंड़ीगढ़ से नौ मार्च से 29 जून तक प्रत्येक गुरुवार को चलेगी। यह ट्रेन अंबाला, मुरादाबाद और लखनऊ के रास्ते गोरखपुर पहुंचेगी, जिसमें जिसमें साधारण के अलावा स्लीपर और एसी बोगियां लगेंगी। 1’ 05033 नंबर की ट्रेन गोरखपुर से नौ, 11, 14, 16 व 17 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन गोंडा, सीतापुर कैंट और बरेली होते हुए आनंदबिहार टर्मिनस पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी। 1’ 05034 नंबर की ट्रेन आनंदविहार से दस, 12, 15, 17 व 18 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन मुरादाबाद, बरेली, सीतापुर कैंट और गोंडा होते हुए गोरखपुर पहुंचेगी, जिसमें जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी। 1’ 01170 नंबर की ट्रेन गोरखपुर से सिर्फ 14 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन लखनऊ, झांसी और कल्याण होते हुए एलटीटी पहुंचेगी, जिसमें वातानुकूलित तृतीय श्रेणी के 13 कोच लगाए जाएंगे। 1’ 01169 नंबर की ट्रेन एलटीटी से सिर्फ 10 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन कल्याण, झांसी और लखनऊ होते हुए गोरखपुर पहुंचेगी, जिसमें वातानुकूलित तृतीय श्रेणी के 13 कोच लगाए जाएंगे। 1’ 04415 नंबर की ट्रेन दरभंगा से 12 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन छपरा, गोरखपुर और लखनऊ होते हुए आनंदविहार पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ स्लीपर और साधारण श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 04416 नंबर की ट्रेन आनंदविहार से 11 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन मुरादाबाद, लखनऊ, गोरखपुर और छपरा होते हुए दरभंगा पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ स्लीपर और साधारण श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 04602 नंबर की ट्रेन फिरोजपुर कैंट से दस मार्च को चलेगी। यह ट्रेन जालंधर, मुरादाबाद, सीतापुर कैंट, गोरखपुर और छपरा होते हुए कटिहार जाएगी, जिसमें सिर्फ स्लीपर और साधारण श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 04601 नंबर की ट्रेन कटिहार से 14 मार्च को चलेगी। यह ट्रेन छपरा, गोरखपुर, गोंडा, सीतापुर कैंट, लुधियाना होते हुए फिरोजपुर कैंट पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ स्लीपर और साधारण श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 05007 नंबर की ट्रेन रामनगर से तीन मार्च से 30 जून तक प्रत्येक शुक्रवार को चलेगी। यह ट्रेन सीतापुर कैंट, गोरखपुर, कप्तानगंज, छपरा, बरौनी होते हुए हावड़ा पहुंचेगी, जिसमें सभी श्रेणी को कोच लगाए जाएंगे। 1’ 05008 नंबर की ट्रेन हावड़ा से पांच मार्च से दो जुलाई तक प्रत्येक रविवार को चलेगी। यह ट्रेन आसनसोल, बरौनी, छपरा, थावे, कप्तानगंज, गोरखपुर, गोंडा, सीतापुर कैंट होते हुए रामनगर पहुंचेगी, जिसमें सभी श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 05115 नंबर की ट्रेन छपरा से सात मार्च से 27 जून तक प्रत्येक मंगलवार को चलेगी। यह ट्रेन थावे, कप्तानगंज, गोरखपुर और लखनऊ होते हुए आनंदविहार जाएगी, जिसमें सभी श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 05116 नंबर की ट्रेन आनंदविहार से आठ मार्च से 29 जून तक प्रत्येक बुधवार को चलेगी। यह ट्रेन मुरादाबाद, लखनऊ, गोरखपुर, कप्तानगंज, थावे होते हुए छपरा पहुंचेगी, जिसमें सभी श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे। 1’ 04404 नंबर की ट्रेन नई दिल्ली से तीन मार्च से 30 जून तक प्रत्येक शुक्रवार और मंगलवार को चलेगी। यह ट्रेन मुरादाबाद, लखनऊ, गोरखपुर और छपरा होते हुए बरौनी पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी। 1’ 04403 नंबर की ट्रेन बरौनी से चार मार्च से एक जुलाई तक प्रत्येक शनिवार और बुधवार को चलेगी। यह ट्रेन छपरा, गोरखपुर, लखनऊ और बरेली होते हुए नई दिल्ली पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी। 1’ 04406 नंबर की ट्रेन दिल्ली से दो मार्च से 29 जून तक प्रत्येक गुरुवार और सोमवार को चलेगी। यह ट्रेन मुरादाबाद, लखनऊ, गोरखपुर और छपरा होते हुए दिल्ली तक पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी। 1’ 04405 नंबर की ट्रेन दरभंगा से तीन मार्च से 30 जून तक प्रत्येक शुक्रवार और मंगलवार को चलेगी। यह ट्रेन छपरा, गोरखपुर, लखनऊ और मुरादाबाद होते हुए दिल्ली पहुंचेगी, जिसमें सिर्फ वातानुकूलित बोगियां लगाई जाएंगी।’>>भीड़ को देखते हुए रेलवे प्रशासन ने की स्पेशल ट्रेनों की घोषणा1’>>गोरखपुर से एलटीटी, आनंदविहार और चंडीगढ़ तक जाएंगी स्पेशलगोरखपुर : मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) लखनऊ आलोक सिंह ने बुधवार को स्टेशन का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने निर्माण कार्यो का जायजा लिया। यात्री सुविधा और अवैध वेंडिंग के खिलाफ चल रहे अभियान की समीक्षा भी की। उन्होंने गोरखपुर, गोंडा और लखनऊ स्टेशन को आधार मानकर जांच अभियान चलाने का निर्देश जारी किया है। इसके लिए वाणिज्य विभाग और रेलवे सुरक्षा बल की टीम भी गठित कर दी गई है। 1गोड़ा-बढ़नी रेल खंड का निरीक्षण करते हुए डीआरएम रात नौ बजे गोरखपुर पहुंचे। यहां निरीक्षण के दौरान निर्माणाधीन पार्क को जल्द पूरा करने के लिए निर्देशित किया। यात्री सुविधाओं की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि अवैध वेंडिंग पर संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। किसी भी दशा में यात्रियों की सुरक्षा और सेहत के साथ खिलवाड़ नहीं होने दिया जाएगा। डीआरएम के निर्देश पर अवैध वेंडिंग के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। रेलवे सुरक्षा बलों ने वाणिज्य विभाग के साथ मिलकर स्टेशन पर तीन दिन तक अभियान चलाया है, जिसमें दो दर्जन अवैध वेंडर पकड़े गए हैं। फिलहाल, स्टेशन पर अभियान का असर दिख रहा है। लेकिन यह कब तक रहेगा कुछ कहा नहीं जा सकता। डीआरएम देर रात कृषक एक्सप्रेस से लखनऊ के लिए रवाना हो गए। इस मौके पर क्षेत्रीय प्रबंधक राजीव सेठ और स्टेशन प्रबंधक पीके अस्थाना के अलावा मंडल के समस्त वरिष्ठ रेल अधिकारी आदि मौजूद थे।
  
Yesterday (18:20)  Northeast Frontier Railway sacrifices punctuality to avoid elephant deaths (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Commentary/Human InterestNFR/Northeast Frontier  -  

News Entry# 294619   Blog Entry# 2175804     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  126032 news posts
GUWAHATI: The Northeast Frontier Railway (NFR) said it had sacrificed punctuality on certain sections of Assam to avoid elephant-train collisions.
"Important trains like the Rajdhani and the Jan Shatabdi running between Guwahati and Furkating are taking about an hour more to reach their destinations. Freight trains are also getting delayed. Despite this, our utmost priority is reducing elephant mortality," NFR chief public relations officer Pranav Jyoti Sharma said.Between September 27 and December 17 last year, at least seven elephants died in collision with trains. Even though these deaths occurred outside identified locations where elephants normally cross tracks, NFR said intensified patrolling and coordination with the forest department and wildlife NGOs could prevent more such mishaps.Sharma said 12 collisions had been averted in
...
more...
the past three months, four of them in January alone, because the railway control unit at Lumding received alerts on elephant movement. The unit, in turn, advised engine drivers to slow down. One forest official has also been deputed to the control room to assist in dissemination of information on elephant movement.
According to the NFR, altogether 47 elephants were saved from colliding with moving trains between 2013 and 2016.
A joint meeting between the district administration, forest department and railways on December 8 and December 20 decided to streamline information exchange at the field level."Along with joint patrolling by railway and forest staff, a WhatsApp group has been created to share information on a real-time basis. Contact numbers of station masters have been given to forest officials for speedy information exchange. Train drivers and guards have also been sensitized on the importance of elephant conservation," Sharma said.
Death of elephants due to collision with moving trains has been a matter of concern in Assam. Experts said, over the years, elephants were also seen using new areas for movement across the tracks. They added that the animals get scattered and move on to new routes when they are chased by humans.
Railway officials said most of the accidents in recent months occurred in places where there was no speed restriction for trains.
In 2012, at least four elephants were run over by trains in different parts of Assam. The year before, five were killed in collision with moving trains; three of them died in Jorhat district's Gibbon Wildlife Sanctuary. Seven elephants were killed in a train collision in Karbi Anglong and Deepor Beel areas in 2010.

1 posts - Yesterday - are hidden. Click to open.

  
178 views
Today (07:35)
Kishor*^~   4571 blog posts   123 correct pred (62% accurate)
Re# 2175804-2            Tags   Past Edits
a report about existence of elephants in Africa says " 73% decline in population' due to poaching....
India may control poaching but for accidents Govt must create tracks which are :
1- Fenced both sides
2- have ROBs at crucial places such that elephants do not find cornered on one side, but can easily move to other side ...
Thus
...
more...
two facts though costly, can help avoid extinctions of precious life of elephants
When machines were not invented elephants were used as trucks to carry loads... and when it got old, they will kill it....
  
Yesterday (18:20)  Out for classes, bodies found on railway tracks (timesofindia.indiatimes.com)
back to top
Commentary/Human InterestNR/Northern  -  

News Entry# 294618     
   Tags   Past Edits
This is a new feature showing past edits to this News Post.

Posted by: rdb*^  126032 news posts
GURUGRAM: A 25-year-old man and a woman (23) were found dead on the railway tracks between Rewari and Gurgaon on Wednesday evening.
The duo, Sandeep and Munesh, was from Rajpura village near Pataudi and attended coaching classes together for the Staff Selection Commission exams, police said. They lay a little apart from each other. Both bodies were mutilated; the man's head had been severed.
Their bodies were spotted between Pataudi and Jatola stations by the driver of a passenger train going from Rewari to Gurgaon around 5pm on Tuesday. The driver informed the
...
more...
station superintendent, who called the railway police. Parmanand, the cop who led the team that retrieved the bodies, said the duo had left home apparently to attend classes at their coaching institute in Rewari on Tuesday morning. Both were science graduates. The families have not filed any case with the police.
Police said the bodies were identified with the help of the phones that the victims were carrying. When the police team was around, the phones of both Sandeep and Munesh rang.
"The caller on Sandeep's phone claimed he was his brother Rakesh. The caller on Munesh's phone claimed he was her brother Harish," said Paramanand. That's how the two were identified. "They were from different castes. We are waiting for the autopsy report," Parmanand added.
Page#    277580 news entries  <<prev  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom


Go to Mobile site