Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 #
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Amarkantak Express: Holy for Railfans as holy as Amarkantak is for devotees. - Ayan G

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Fri Jan 21 07:39:05 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search

News Posts by Need stoppage of Singrauli Exp

Page#    Showing 1 to 5 of 163 news entries  next>>
Dec 30 2021 (16:01) रायरू से श्योपुर का सफर तीन घंटे में होगा तय:जिले में डाली जा रही ब्राडगेज रेलवे लाइन (dainik-b.in)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
11702 views

News Entry# 473504  Blog Entry# 5177615   
  Past Edits
Dec 30 2021 (16:01)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 30 2021 (16:01)
Station Tag: Sabalgarh/SBL added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 30 2021 (16:01)
Station Tag: Birlanagar Junction/BLNR added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 30 2021 (16:01)
Station Tag: Sheopur Kalan/SOE added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 30 2021 (16:01)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927
मुरैना में ब्राडगेज रेलवे लाइन डाली जा रही है। लाइन ग्वालियर से श्योपुर तक जाएगी। लाइन के लिए रेलवे पुलों का निर्माण किया जा रहा है। जौरा में पुलों का निर्माण चल रहा है। ग्वालियर(रायरू) से सबलगढ़ का सफल करने में अभी जहां 10 से 12 घंटे लगते हैं, वहीं ब्राडगेज बन जाने के बाद इसका सफल मात्र तीन घंटे का हो जाएगा। इससे ग्वालियर, मुरैना तथा श्योपुर की दूरी चंद मिनटों की रह जाएगी। ग्वालियर से श्योपुर तक छोटी रेलवे लाइन से सफर 10 से 12 घंटे तक का होता था। बस से भी लगभग इतना ही समय लग जाता है, लेकिन अब ग्वालियर व मुरैना वासियों को अधिक इंतजार नहीं करना पड़ेगा। उनकी यह दूरी 12 घंटे से घटकर मात्र तीन घंटे की होने वाली है। ग्वालियर से मुरैना के जौरा का सफर तय करने में जहां डेढ़ घंटा लगता हैं वहीं अब यह दूरी मात्र 40 मिनट में...
more...
तय हो जाया करेगी।रायरू(ग्वालियर) से श्योपुर के लिए ब्राडगेज रेलवे लाइन डाली जा रही है। दो हजार, नौ सौ, छियानवे करोड़ के इस परे प्रोजेक्ट को तीन चरणों में पूरा किया जाएगा। पहले चरण का काम शुरु हो चुका है। इसके तहत पुलों के निर्माण का काम चल रहा है।
इस प्रकार समझें1-ब्राडगेज जाएगी-ग्वालियर से श्योपुर तक2-प्रोजेक्ट की कुल लागत-2912.96 करोड़ रुपए3-पहले चरण के प्रोजेक्ट की राशि-433 करोड़ रुपए(टेण्डर जारी)4-पहले चरण में सुमावली से लेकर सबलगढ़ तक 50 छोटे पुलों का निर्माण होगा इसके लिए 51 किमी लंबाई में मिट्‌टी का कच्चा ट्रेक बनाकर तैयार करना होगा। इस ट्रेक पर लाइन बिछाने का काम शुरु होगा। इसके लिए 433 करोड़ रुपए में से 249 करोड़ रुपए का टेण्डर जारी किया जा चुका है।5-433 करोड़ी राशि में से ही 184 करोड़ रुपए का टेण्डर जारी किया गया है। इसमें बिरलानगर (ग्वालियर) से सबलगढ़ (मुरैना) तक 10 बड़े पुलों का निर्माण कराया जाएगा।6-ब्राडगेज रेलवे लाइन के लिए बानमोर(मुरैना) से सुमावली(मुरैना) के बीच घोड़ा पछाड़ पहाड़ नदी पर जौरा से कैलारस के बीच सोन नदी पर पुल बनाया जाएगा। सबलगढ़ से कैलारस के बीच क्वारी नदी परपुल बनाया जाएगा। इसी प्रकार वीरपुर से श्योपुर के बीच सीप नदीं पर चार बड़े पुलों का निर्माण कराया जाएगा। चार पुलों का निर्माण ठेका कंपनी शुरु कर चुकी है।यह चल रहा काम1-पहले चरण में रायरू से बानमोर व सबलगढ़ तक 65 किलोमीटर लंबी नेरोगेज ट्रेक को उखाड़ा जा रहा है।2-रेलवे को जून 2022 तक रायरु से बानमोर तक नेरोगेज ट्रेक को उखाड़कर उसका मिट्‌टी-मुरम भराव करके ब्राडगेज के लिए तैयार करना है।3-मुरैना जिले में तीन बड़े पुलों का निर्माण बानमोर, सुमावली, व सिकरौदा पर रेलवे ने करवाना शुरु कर दिया है। इन तीनों ही जगहों पर पुलों के पिलर खड़े करने के लिए जमीन की खुदाई का काम चल रहा है। पुल निर्माण के लिए ठेका कंपनी को दो साल का समय दिया गया है।
पहले चरण में 106 छोटे व 10 बड़े पुल बन रहेबानमोर से सबलगढ़ तक 80 किलोमीटर की लंबाई में नैरोगेज ट्रेक हटाने का काम पुणे की आईएससी निर्माण एजेंसी को दिया गया है। इस एेजेंसी ने बानमोर, कैलारस व जौरा क्षेत्र में पटरियों को उखाड़ने व पुलों के पिलर डालने का काम शुरु कर दिया है। दुसरी तरफ सुमावली से सबलगढ़ तक 55 किलोमीटर लंबााई में 106 पुलिया बनाने का काम करने के लिए 244 करोड़ रुपए के टेंडर रेलवे ने जारी कर दिए हैं। इसके साथ ही ग्वालियर से सबलगढ़ के बीच 10 बड़े पुलों का निर्माण कराया जा रहा है।संक्षेप में चरण, जिले व दूरीपहले चरण में ग्वालियर-जौरा-अलापुर(41.60 किलोमीटर)दूसरे चरण में अलापुर-सबलगढ़(41.60 किलोमीटर)तीसरे चरण में सबलगढ़-श्योपुरकलां(107.23 किलोमीटर)इसके साथ ही श्योपुर-कोटा तक 96.47 किलोमीटर लंबी नई रेल लाइन बिछाई जाएगी।
ग्वालियर. एयरपोर्ट Airport की तर्ज पर बने मध्य प्रदेश के कमलापति स्टेशन Kamlapati station (पुराना नाम हबीबगंज स्टेशन) की तरह ही 3 नए स्टेशनों का कायाकल्प होगा। इसमें उत्तर प्रदेश के प्रयागराज और कानपुर व मध्य प्रदेश के ग्वालियर स्टेशन (Gwalior railway station) को चुना गया है। तीनों स्टेशन का प्रपोजल बनाकर रेल मंत्रालय को भेजा गया है। सप्लीमेंट्री बजट में इन तीनों स्टेशनों का स्वीकृति मिल जाएगी।
325 करोड़ रुपए से ग्वालियर स्टेशन का सौंदर्यीकरण होगायह जानकारी झांसी मंडल का निरीक्षण करने पहुंचे उत्तर मध्य रेलवे के महाप्रबंधक प्रमोद कुमार ने दी और कहा कि 450 करोड़ रुपए से प्रयाग राज, 350 करोड़ से कानपुर और 325 करोड़ रुपए से ग्वालियर स्टेशन (Gwalior railway station) का सौंदर्यीकरण होगा। इसमें आने-जाने के
...
more...
लिए अलग-अलग रास्ते बनाए जाएंगे। ऐक्सलरेटर, बड़ा हॉल व अन्य सौंदर्यीकरण के कार्य किए जाएंगे। महाप्रबंधक ने कहा कि हमने पूरी तैयारी करके रखी है। जैसी ही स्वीकृति मिलती है, तुरंत टेंडर निकाले जाएंगे इसके साथ ही झांसी, आगरा और मथुरा का भी सौंदर्यीकरण कराया जाएगा।
Dec 20 2021 (22:36) भोपाल के यात्रियों को सुविधा:कोरबा-अमृतसर-बिलासपुर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में झटके नहीं लगेंगे; 31 दिसंबर से एलएचबी रेक से चलेगी (dainik-b.in)
0 Followers
17538 views

News Entry# 472771  Blog Entry# 5168027   
  Past Edits
Dec 20 2021 (22:36)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 20 2021 (22:36)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 20 2021 (22:36)
Station Tag: Korba/KRBA added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 20 2021 (22:36)
Train Tag: Chhattisgarh Express/18237 added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927
छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। भोपाल से होकर जाने वाली कोरबा-अमृतसर-बिलासपुर छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस अब एलएचबी कोच से चलेगी। गाड़ी संख्या 18237/18238 कोरबा-अमृतसर-बिलासपुर छत्तीसगढ़ त्रि-साप्ताहिक एक्सप्रेस में यह सुविधा 31 दिसंबर से मिलने लगेगी।
कोच कंपोजीशन : इस गाड़ी में फर्स्ट एसपी का 1, सेकंड एसी के 2, थर्ड एसी के 6, स्लीपर क्लास के 7, सामान्य श्रेणी के 2, पैंट्री कार के 1, एसएलआर के 1 और जनरेटर कार समेत कुल 21 डिब्बे रहे हैं।
पहले आईसीएफ डिब्बों से चल रही थी
मेक
...
more...
इन इंडिया पहल के तहत तैयार किए गए एलएचबी डिब्बे पारंपरिक (आईसीएफ) डिब्बों की तुलना में काफी आरामदायक और अधिक सुरक्षित होते हैं। इनमें उच्च गति क्षमता होती है। वजन में हल्का होते हैं। इन कोचों की एन्टी क्लाइम्बिंग विशेषताएं दुर्घटनाओं के दौरान उन्हें ढेर होने से रोकती हैं। इससे यात्रियों को नुकसान कम होने की संभावना रहती है। नए डिजाइन में तैयार किए गए यह कोच यात्रा का सुखद एहसास कराते हैं।
Dec 07 2021 (18:05) संसदीय पैनल ने रिजर्वेशन और किराया को लेकर रेलवे को दिए सुझाव, वेटिंग और RAC टिकट वालों को होगा लाभ (hindi-news18-com.cdn.ampproject.org)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
8334 views

News Entry# 471803  Blog Entry# 5156737   
  Past Edits
Dec 07 2021 (18:05)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927
Stations:  Gwalior Junction/GWL  
संसदीय पैनल ने रिजर्वेशन और किराया को लेकर रेलवे को दिए सुझाव, वेटिंग और RAC टिकट वालों को होगा लाभ
पैनल ने रेलवे को आईआरसीटीसी वेबसाइट सर्वर की क्षमता को बढ़ाने का भी सुझाव
Parliamentary Panel Gave Suggestions to Indian Railways: भाजपा सांसद राधा मोहन की अध्यक्षता वाली समिति ने भारतीय रेलवे की आरक्षण प्रणाली की रिपोर्ट पर कहा कि जो लोग शॉर्ट नोटिस पर यात्रा करना चाहते हैं उनके लिए पहले से ही तत्काल टिकट बुकिंग का प्रावधान चल रहा है, इसलिए 4-5 घंटे पहले पहली आरक्षण सूची तैयार हो जाने के
...
more...
बाद ट्रेन में बची खाली सीटों को RAC टिकट वाले यात्रियों और वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को दी जानी चाहिए.
नई दिल्ली: सोमवार को संसदीय पैनल ने भारतीय रेलवे रिजर्वेशन (Railway Reservation) को लेकर कुछ सुझाव दिए. संसदीय पैनल (Parliamentary Panel) के यह सुझाव (Parliamentary Panel suggestions to railways) मुख्य रूप से रेलवे के यात्रा से पहले तैयार किए जाने वाले दूसरे रिजर्वेशन चार्ट (Second Reservation Chart ) को लेकर थे. पैनल ने कहा कि भारतीय रेलवे (Indian Railway) को रिजर्वेशन के अपने दूसरे चार्च को तैयार करने की नीति की समीक्षा करनी चाहिए. इस संबंध में रेल मंत्रालय की स्थायी समिति ने कहा कि ट्रेन के डिपार्चर से 30 मिनट पहले रिजर्वेशन चार्ट तैयार करने का कोई तर्क नहीं है जब वेटिंग और आरएसी टिकट के यात्री अपना कंफर्न टिकट का इंतजार कर रहे होते हैं.
भाजपा सांसद राधा मोहन की अध्यक्षता वाली समिति ने भारतीय रेलवे की आरक्षण प्रणाली की रिपोर्ट पर कहा कि जो लोग शॉर्ट नोटिस पर यात्रा करना चाहते हैं उनके लिए पहले से ही तत्काल टिकट बुकिंग का प्रावधान चल रहा है, इसलिए 4-5 घंटे पहले पहली आरक्षण सूची तैयार हो जाने के बाद ट्रेन में बची खाली सीटों को RAC टिकट वाले यात्रियों और वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों को दी जानी चाहिए. इससे यात्री निर्धारित समय में बिना किसी समस्या के यात्रा कर सकेंगे.
टिकट की रियल टाइम में मिलनी चाहिए जानकारीसंसदीय पैनल ने अपने रिपोर्ट में आरएसी टिकट धारकों को और अधिक मदद पहुंचाने के लिए भी सुझाव दिए. पैनल ने कहा कि रेलवे के डिब्बों में एक विशेष प्रकार की व्यवस्था करनी चाहिए कि यात्री अपनी वेटिंग लिस्ट का स्टेटस आसानी से चेक कर सकें न कि कोई यात्री टिकट का स्टेट जानने के लिए बार बार टीटी को तलाशे. यात्रियों को अपने टिकट के स्टेट के बारे में रियल टाइम में इंफॉर्मेशन मिलनी चाहिए जिससे सीट्स के आवंटन में भी पारदर्शिता आएगी.
फेयर से यात्रियों की पहुंच कम हुईसमिति ने इसके साथ ही रेलवे को राजधानी, शताब्दि और दूरंतो ट्रेनों में शुरू की गई फ्लेक्सी/डायनमिक फेयर मैकेनिज्म पर भी समीक्षा करने का सुझाव दिया. समिति ने कहा कि प्रीमियम ट्रेनों के टिकट की कीमत पहले से ही नियमित मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की तुलना में काफी अधिक है और अब फ्लेक्सी योजनाओं के तहत किराए में वृद्धि से इन ट्रेनों को आर्थिक रूप से वंचित या फिर कमजोर रेल उपयोगकर्ताओं की पहुंच से प्रिमियम ट्रेन से बाहर हो गई है. पैनल ने रेलवे को आईआरसीटीसी वेबसाइट सर्वर की क्षमता को बढ़ाने का भी सुझाव दिया
Dec 02 2021 (20:14) सांसद शेजवलकर ने संसद में रखी ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विस्तार और आधुनिकीकरण की मांग (www.swadeshnews.in)
Commentary/Human Interest
NCR/North Central
0 Followers
9334 views

News Entry# 471419  Blog Entry# 5152057   
  Past Edits
Dec 02 2021 (20:14)
Station Tag: Rani Kamlapati (Habibganj)/RKMP added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927

Dec 02 2021 (20:14)
Station Tag: Gwalior Junction/GWL added by Need stoppage of Singrauli Exp/1887927
। सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने बुधवार को शून्यकाल के दौरान प्रस्तावित ग्वालियर रेलवे स्टेशन के सौन्दर्यीकरण और आधुनिकीकरण परियोजना में तेजी लाने की बात सदन के पटल पर रखी।
शेजवलकर ने उपरोक्त मांग को पटल पर रखते हुये कहा कि गत् दिनों भोपाल में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने विश्वस्तरीय रेलवे स्टेशन रानी कमलापति का लोकार्पण किया । इसी तरह मेरे संसदीय क्षेत्र के ग्वालियर रेलवे स्टेशन के सौंदर्यीकरण एवं आधुनिकीकरण के लिये 240 करोड़ रुपए की योजना प्रस्तावित है। जिसका जिम्मा रेलवे स्टेशन विकास निगम लिमिटेड (आईआरएसडीसी) के पास हैं। ग्वालियर रेलवे स्टेशन का विकास एयरपोर्ट स्टाइल में किया जाएगा। इससे यात्री सुविधा बेहतर होंगी साथ ही राजस्व भी बढेगा। श्री शेजवलकर ने कहा कि ग्वालियर का
...
more...
वर्तमान रेलवे स्टेशन हेरिटेज इमारतों की श्रेणी में आता है अत: इसका विस्तारीकरण व आधुनिकीकरण इसके मूलस्वरूप को सहेजकर ही किया जाना चाहिये।
सांसद श्री शेजवलकर ने उपरोक्त सौगात के लिये माननीय प्रधानमंत्री जी और रेल मंत्री जी का पुन: हार्दिक आभार व्यक्त करते हुये कहा कि जिस तरह प्रधानमंत्री जी ने देश को आश्वस्त किया है कि नवीन संसद भवन व सेंट्रल विस्टा‍ का निर्माण वर्ष 2023 तक पूर्ण हो जायेगा उसी तरह ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विस्तार एवं आधुनिकीकरण कार्य भी संसद के इसी कार्यकाल के पूर्व संपन्न हो और माननीय प्रधानमंत्री जी के कर कमलो से उसका लोकार्पण हो जाये।
Page#    163 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy