Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Topic
 Bookmarks
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 PNR Ref
 PNR Req
 Blank PNRs
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
dark mode

Uttarbanga Exp: উত্তরের আত্মার আত্মীয় - Avinaba Bose

Full Site Search
  Full Site Search  
FmT LIVE - Follow my Trip with me... LIVE
 
Tue Dec 7 15:33:39 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Quiz Feed
Topics
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Advanced Search

News Posts by Adittyaa Sharma

Page#    Showing 1 to 5 of 31683 news entries  next>>
Today (13:55) जबलपुर रेलवे: एक बारकोड परिचय पत्र में दो वेंडर फोटो बदलकर करते हैं काम (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
1872 views

News Entry# 471792  Blog Entry# 5156531   
  Past Edits
Dec 07 2021 (13:55)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (13:55)
Station Tag: Kota Junction/KOTA added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (13:55)
Station Tag: Jabalpur Junction/JBP added by Adittyaa Sharma/1421836
जबलपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। रेलवे के खाना को सुधारने के लिए रेलवे और आईआरसीटीसी ने कवायद की, लेकिन इसका असर कम ही दिखाई दिया। पश्चिम मध्य रेलवे भी जबलपुर समेत भोपाल और कोटा, तीनों रेल मंडल में यात्रियों को परोसे जा रहे रेलवे खाने की गुणवत्ता सुधारने में जुटा है। इसके लिए खाने की गुणवत्ता की जांच से लेकर इन्हें परोसने वाले वेंडरों का सत्यापन किया जा रहा है। रेलवे की जांच में न सिर्फ खाने की गुणवत्ता में खराबी मिली है बल्कि वेंडरों के सत्यापन में भी गड़बड़ी सामने आई है।
दरअसल पमरे के तीनों मंडल द्वारा वेंडर के पुलिस और मेडिकल प्रमाण पत्र की जांच की जा रही है। जांच में यह बात सामने आई है कि कई वेंडर
...
more...
के एक आइकार्ड पर दो वेंडर अपनी फोटो लगाकर उनका उपयोग कर रहे हैं। सुबह के वक्त जो वेंडर कार्ड लगाकर काम करता है, वह शाम को उसी आइकार्ड में फोटो बदलकर दूसरा वेंडर स्टेशन पर सामान बेचता है।
स्टॉल संचालक करते हैं खेल- समझें: स्टेशन पर स्टॉल संचालक को दो से तीन शिफ्ट में 10 वेंडर रखने की अनुमति मिलती है। इनमें दो मैनेजर और शेष आठ वेंडर होते हैं। एक मैनेजर सुबह और दूसरा शाम की शिफ्ट में काम करना है, लेकिन सुबह के वक्त सात से आठ वेंडर स्टेशन पर खाना बेचते हैं और रात को भी इतने ही वेंडर काम करते हैं। सुबह जो वेंडर काम करता है, वह शाम को तो नहीं आता, लेकिन उसका क्यूआरकोड वाला आइकार्ड लेकर दूसरा वेंडर शाम को खाना बेचता है। वह सिर्फ आइकार्ड में अपनी फोटो लगाता है, शेष जानकारी सुबह आने वाले वेंडर की हाेती है। ऐसे में न तो यात्री उसे पकड़ पाता है और न ही जांच अधिकारी। कई बार यह सब कुछ जांच अधिकारी की जानकारी में भी होता है।
गड़बड़ी, सख्ती से जांच: जांच में यह बात सामने आने के बाद कमर्शियल विभाग ने वेंडरों के पुलिस और मेडिकल प्रमाण पत्र की सख्ती से जांच शुरू कर दी है। अब तक बन चुके वेंडरों के आइकार्ड की जांच के लिए सभी जांच अधिकारियों को स्पष्ट कहा गया है कि वे मोबाइल पर क्यूआर कोड की जांच करने एप रखे। इतना ही नहीं अब स्टेशन पर भी ऐसे संदेश जारी कराए जा रहे हैं, जिसे पढ़कर वेंडरों के आइकार्ड की जांच का तरीका याित्रयों को आसानी से पता चल जाएगा।
अभी तक यह:
जबलपुर मंडल- सभी मुख्य रेलवे स्टेशनों पर काम करने वाले वेंडरों का वैरीफिकेशन किया जा रहा है, अब तक 250 से ज्यादा वेंडरों का पंजीयन कर जांच की जा चुका है।
भोपाल मंडल- भोपाल समेत मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर काम करने वाले वेंडरों का नए सिरे से वैरीफिकेशन जारी है। तीन सौ से ज्यादा जांच की खामियों को समय रहते दूर कर रहे हैं।
कोटा मंडल- मंडल की सीमा में आने वाले कोटा समेत सभी स्टेशन पर ढाई सौ से ज्यादा वेंडरों का वैरीफिकेशन किया गया है। अभी भी यह काम चल रहा है।
-----------------------
तीनों मंडल में वेंडरों का वैरीफिकेशन किया जा रहा है। इसमें पुलिस और मेडिकल प्रमाणपत्र की भी जांच हो रही है। जांच में जो भी खामियां हैं, उन्हें तत्काल दूर कर वेंडरों की काउंसलिंग की जा रही है।
राहुल जयपुरिया, मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, पश्चिम मध्य रेलवे,जबलपुर
Today (11:59) Demand and Reply of a New train from Malda to New Delhi and Banglore (railtracker.in)
IR Affairs
ER/Eastern
0 Followers
3801 views

News Entry# 471790  Blog Entry# 5156458   
  Past Edits
Dec 07 2021 (12:00)
Station Tag: New Delhi/NDLS removed by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (12:00)
Station Tag: Sarai Bhopat/SB removed by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (12:00)
Station Tag: Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus/CSMT added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (12:00)
Station Tag: KSR Bengaluru City Junction (Bangalore)/SBC added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:59)
Station Tag: Sarai Bhopat/SB added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:59)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:59)
Station Tag: Malda Town/MLDT added by Adittyaa Sharma/1421836
Today (11:11) आइआरसीटीसी को मिले सात सुपरवाइजर, अब पेंट्रीकार की हो सकेगी मानिटरिंग (www.naidunia.com)
IR Affairs
SECR/South East Central
0 Followers
2983 views

News Entry# 471789  Blog Entry# 5156409   
  Past Edits
Dec 07 2021 (11:11)
Station Tag: Bilaspur Junction/BSP added by Adittyaa Sharma/1421836
Stations:  Bilaspur Junction/BSP  
बिलासपुर। आइआरसीटीसी को सात सुपरवाइजर मिले हैं। सभी का ईस्ट जोन से यहां तबादला किया गया था। हालांकि इसके लिए क्षेत्रीय कार्यालय से ही मांग पत्र भेजा गया था। इस दौरान उन्हें यहां कर्मचारियों के अभाव में होने वाली परेशानियों से अवगत कराया गया था। खासकर पेंट्रीकार की मानिटरिंग का काम प्रभावित हो रहा था। पर इस तरह की दिक्कतें नहीं आएंगी। इन सुपरवाइजरों की सेवा पेंट्रीकार के अलावा स्टेशनों में संचालित फूड यूनिट की मानिटरिंग में लिया जाएगा।
एक समय था जब आइआरसीटीसी के पास 15 सुपरवाइजर थे। ये सभी संविदा के कर्मचारी थे। लेकिन कार्यकाल पूरा होने के बाद एक- एककर सभी चले गए। पिछले कई महीनों से कर्मचारियों की कमी से आइआरसीटीसी जूझ रहा था। इसके चलते कहीं न
...
more...
कहीं कामकाज भी प्रभावित हो रहा था। इनमें सबसे प्रमुख मानिटरिंग ही थी। उस समय भी पेंट्रीकार की सुविधा थी। अंतर केवल इतना था कि संचालक पैकेट बंद सामान बेच रहे थे। पर अब पेंट्रीकार में खाना पकाने की अनुमति दे दी गई है।
इसलिए अब आइआरसीटीसी चाह रहा है कि सभी ट्रेनों की पेंट्रीकार की नियमित जांच कराई जाए। सुपरवाइजरों को ट्रेन में ही भेजा जाए। इससे पेंट्रीकार के कर्मचारी न तो ओवरचार्जिंग कर सकेंगे और न खानपान की क्वालिटी में लापरवाही बरतेंगे। इसके साथ ही प्रमुख स्टेशनों में आइआरसीटीसी की फूड यूनिट भी हंै। इनकी भी मानिटरिंग में दिक्कत होती थी। नियुक्ति के बाद इन सुपरवाइजरों को यही जवाबदारी सौंपी जाएगी। कुछ और सुपरवाइजरों के आने की उम्मीद है। इसके बाद काफी हद तक स्थिति में सुधार आएगा। सभी को आते ही जांच की जिम्मेदारी सौंप दी गई है। जांच के साथ-साथ वे रिपोर्ट भी देंगे।
Today (11:09) भोपाल रेलवे स्टेशन की पार्किंग में वाहनों की निगरानी के लिए बढ़ाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे (www.naidunia.com)
IR Affairs
WCR/West Central
0 Followers
2348 views

News Entry# 471788  Blog Entry# 5156404   
  Past Edits
Dec 07 2021 (11:09)
Station Tag: Rani Kamlapati (Habibganj)/RKMP added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:09)
Station Tag: Bhopal Junction/BPL added by Adittyaa Sharma/1421836
भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल रेलवे स्टेशन पर दो पहिया और चार पहिया वाहन पार्किंग को रेल विभाग और सुरक्षित करेगा। दोनों ही पार्किंग में सीसीटीवी कैमरों की संख्या बढ़ाई जाएगी। ऑफिसर पार्किंग में अलग से सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। रेलकर्मी आलोक त्रिपाठी के वाहन को असामाजिक तत्वों द्वारा नुकसान पहुंचाने की घटना के बाद रेलवे ने यह कदम उठाया है।
भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक और प्लेटफॉर्म 06 की तरह दोपहिया और चार पहिया पार्किंग है। प्लेटफार्म छह की तरफ दोनों पार्किंग आपस में जुड़ी है। जबकि प्लेटफार्म 01 की तरफ दोपहिया और चार पहिया पार्किंग अलग-अलग है। इसी तरफ अफसरों की वाहन पार्किंग भी है, जिसमें खड़े एक चार पहिया वाहन को शनिवार को असामाजिक तत्वों ने नुकसान पहुंचाया
...
more...
था। इस घटना को लेकर रेल मंडल में अधिकारियों व कर्मचारियों ने आक्रोश जताया था। इसके बाद रेलवे ने स्टेशन पर मौजूद पार्किंग स्थलों को और सुरक्षित करने के निर्देश दिए हैं। तीनों पार्किंग में प्रकाश व्यवस्था बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। जहां सीसीटीवी कैमरे नहीं है वहां सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए कहां है। यह भी कहा है कि यात्रियों के लिए बनाई गई पार्किंग में 24 घंटे बूम बैरियर व्यवस्था के चालू रखा जाए।
रानी कमलापति रेलवे स्टेशन से कम लगता है भोपाल रेलवे स्टेशन पर पार्किंग शुल्क
रानी कमलापति रेलवे स्टेशन की तुलना में भोपाल रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को पार्किंग शुल्क कम लगता है। रानी कमलापति स्‍टेशन पर पहले एक घंटे में दो पहिया वाहन के 15 रुपए और चार पहिया वाहन के 20 रुपए चुकाने पड़ते हैं। एक घंटा बीतने के बाद प्रति 2 घंटे के हिसाब से दोपहिया के 20 रुपए और चार पहिया वाहन के 40 रूपये देने पड़ते हैं। वही भोपाल रेलवे स्टेशन पर इसकी तुलना में बहुत ही कम पार्किंग शुल्क है।
भोपाल से ज्यादा रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर वाहनों की सुरक्षा
भोपाल रेलवे स्टेशन की तुलना में रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के वाहन पार्किंग में ज्यादा सुरक्षित है। यहां जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। बूम बैरियर की व्यवस्था भी है। यात्रियों को पार्किंग रसीद ऑटोमेटिक सिस्टम के तहत दी जाती है जिसमें तारीख और समय में गड़बड़ी नहीं होती है। इस तरह पार्किंग शुल्क वसूलने में विवाद की कोई स्थिति नहीं बनती है।
Today (11:05) नौतनवा दुर्ग एक्सप्रेस में बम होने की फर्जी सूचना देने वाले दो सगे भाइयों को जीआरपी ने किया गिरफ्तार (m.jagran.com)
Crime/Accidents
SECR/South East Central
0 Followers
204 views

News Entry# 471787  Blog Entry# 5156399   
  Past Edits
Dec 07 2021 (11:05)
Station Tag: Pratapgarh Junction/PBH added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:05)
Station Tag: Anuppur Junction/APR added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:05)
Station Tag: Amlai/AAL added by Adittyaa Sharma/1421836

Dec 07 2021 (11:05)
Station Tag: Prayagraj Junction (Allahabad)/PRYJ added by Adittyaa Sharma/1421836
पकड़े गए दोनों भाइयों ने बताया कि उनकी ट्रेन छूट गई तो उनके खुराफाती दिमाग में एक आइडिया आया कि ट्रेन को निरस्त करवा देते हैं जिससे उनके टिकट का पैसा भी वापस हो जाएगा। पुलिस कंट्रोल रूम में फोन कर ट्रेन में बम रखे होने की सूचना दी थी।
प्रयागराज, जागरण संवाददाता। नौतनवा दुर्ग एक्सप्रेस में बम होने की फर्जी सूचना देने वाले दो सगे भाइयों को जीआरपी ने मध्य प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। दोनों के पास से वह मोबाइल फोन भी जीआरपी ने बरामद किया, जिससे फोन कर उन्होंने ने ट्रेन में बम रखे होने की सूचना दी थी। दोनों के विरुद्ध रेलवे एक्ट व विभिन्न धाराओं में कार्रवाई की गई है।
चार
...
more...
दिसंबर को किया था फोन
जीआरपी ने बताया मध्य प्रदेश के अमलाई गांव जिला अनूपपुर निवासी अख्तर रजा ने 4 दिसंबर को 112 नंबर पर फोन कर बताया था कि नौतनवा दुर्ग एक्सप्रेस के कोच नंबर एस. फाइव, एस. आठ और एस 10. में बम रखा है। पुलिस कंट्रोल रुम में सूचना पहुंची तो हड़कंप मच गया था। सिविल पुलिस ने जीआरपी कंट्रोल रूम को जानकारी दी तो नौतनवा एक्सप्रेस की लोकेशन ट्रेस की गई। पता चला कि ट्रेन प्रतापगढ़ पहुंचने वाली है ।
प्रतापगढ़ रेलवे स्‍टेशन पर ट्रेन में हुई थी गहन चेकिंग
टनौतनवा एक्‍सप्रेस ट्रेन की लोकेशन मिलने पर प्रतापगढ रेलवे स्टेशन पर ट्रेन को रोका गया और सिविल पुलिस के साथ जी जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त चेकिंग अभियान चलाया। फोन पर जिन कोच की जानकारी दी गई थी उनका कोना कोना छान मारा लेकिन, बम नहीं मिला। इस दौरान यात्रियों को भी परेशानी का सामना करना पड़ा था।
सर्विलांस से मध्‍य प्रदेश में पकडे गए फर्जी सूचना देने वाले
ट्रेन बम नई मिलने के बाद जीआरपी पोस्ट प्रयागराज में मुकदमा दर्ज किया गया। जिस मोबाइल नंबर से बम होने की सूचना आई थी, उसे सर्विलांस पर लगाया गया। मोबाइल नंबर की लोकेशन मध्य प्रदेश में मिली। जीआरपी ने छापेमारी कर फोन करने वाले अख्तर रजा और उसके भाई अहमद रजा को गिरफ्तार कर लिया।
युवकों ने बताया, ट्रेन निरस्त करने के लिए किया था फोन
जीआरपी ने बताया कि दोनों युवकों से जब पूछताछ की गई तो पता चला उन्हें इसी ट्रेन से सफर करना था। हालांकि उनकी ट्रेन छूट गई थी। इसके बाद दोनों के खुराफाती दिमाग में एक आइडिया आया कि ट्रेन को निरस्त करवा देते हैं, जिससे उनके टिकट का पैसा भी वापस हो जाएगा। इसके बाद पुलिस कंट्रोल रूम में अपने मोबाइल से फोन कर ट्रेन में बम रखे होने की सूचना दे दी थी।
Page#    31683 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy