Spotting
 Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 Correct
 Wrong
 Stamp
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  

Money is nothing; RailFanning is Everything

Full Site Search
  Full Site Search  
 
Sat Jul 20 08:35:58 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips/Spottings
Login
Feedback
Advanced Search

News Posts by GWL~

Page#    Showing 1 to 5 of 32 news entries  next>>
  
Jul 18 (19:04) सौ दिन में ताजपुर, तराना रोड, उन्हेल स्टेशन पर वाई-फाई (www.bhaskar.com)
WR/Western
0 Followers
997 views

News Entry# 387042  Blog Entry# 4381297   
  Past Edits
Jul 18 2019 (19:06)
Station Tag: Runija/RNJ added by GWL~/1806106

Jul 18 2019 (19:06)
Station Tag: Runkhera/RNH added by GWL~/1806106

Jul 18 2019 (19:06)
Station Tag: Naikheri/NKI added by GWL~/1806106
Posted by: GWL~ 32 news posts
सौ दिन में ताजपुर, तराना रोड, उन्हेल रेलवे स्टेशन पर वाई-फाई सुविधा मिलने लगेगी। रेलवे अधिकारियों के अनुसार रेल मंत्री पियूष गोयल की घोषणा के बाद इसपर काम भी शुरू हो गया है। उज्जैन-भोपाल ट्रैक के पिंगलेश्वर, ताजपुर, तराना रोड, फंदा, पीर उमरोद, उज्जैन- इंदौर ट्रैक के देवास, बरलाई, मांगलिया गांव, इंदौर-रतलाम ट्रैक के पालिया, आेसरा, गौतमपुरा, रुनिजा, उज्जैन-रतलाम ट्रैक पर नईखेड़ी, उन्हेल, रुनखेड़ा स्टेशनों को सौ दिनों में वाई-फाई किया जाएगा। इसके पहले मंडल के 19 स्टेशन इंदौर, उज्जैन, रतलाम, चित्तौड़गढ़, नागदा, जावरा, कालापीपल, मक्सी, शुजालपुर, लीमखेड़ा, पिपल्या, पिपलोद, बड़नगर, दलोदा, डोडर, फतेहाबाद, मल्हारगढ़, रोहटी और विक्रमनगर को वाई-फाई किया जा चुका है।
अभी बड़े स्टेशनों पर सुविधा
अब
...
more...
तक रेलवे ने बड़े स्टेशनों यानी जिन स्टेशनों पर ज्यादा राजस्व मिलता है, वहीं पर वाई-फाई की सुविधा दी थी। इन छोटे स्टेशनों पर वाई-फाई के बाद रतलाम मंडल के हर स्टेशन को वाई-फाई कर दिया जाएगा। इन स्टेशनों पर उतरने और चढ़ने वाले यात्री भी फ्री-इंटरनेट की सुविधा का लाभ ले सकेंगे।
  
Jul 18 (18:43) होशंगाबाद रेलवे स्टेशन पर लहराएगा 100 फीट ऊंचा तिरंगा, देखकर दिल कहेगा सैल्यूट मार (naidunia.jagran.com)
WCR/West Central
0 Followers
1109 views

News Entry# 387041  Blog Entry# 4381254   
  Past Edits
Jul 18 2019 (18:43)
Station Tag: Itarsi Junction/ET added by GWL~/1806106

Jul 18 2019 (18:43)
Station Tag: Hoshangabad/HBD added by GWL~/1806106
Stations:  Itarsi Junction/ET   Hoshangabad/HBD  
Posted by: GWL~ 32 news posts
-स्टेशन के मुख्य प्रवेश द्वार के पास लगेगा ध्वजदंड, नक्शा हो गया है फायनल
-नागरिकों में देशभक्ति को जाग्रत करने के लिए रेलवे ने उठाया कदम
इटारसी। नवदुनिया प्रतिनिधि
मां नर्मदा की नगरी होशंगाबाद के रेलवे स्टेशन पर जल्द ही 100 फीट ऊंचाई पर तिरंगा झंडा लहराता हुआ दिखाई देगा। झंडे की लंबाई संभवतः 30 फीट और चौड़ाई 20 फीट रखी जाएगी। दरअसल, रेलवे
...
more...
देशभर के सबसे व्यस्ततम और धार्मिक व इतिहासिक महत्व वाले रेलवे स्टेशनों पर तिरंगा झंडा लगा रही है। अगले चरण में देश के प्रत्येक स्टेशन पर तिरंगा झंडा लगाए जाएंगे। होशंगाबाद स्टेशन पर इसके लिए स्थान की तलाश भी कर ली गई है और नक्शा भी फायनल हो गया है। होशंगाबाद स्टेशन प्रबंधक एसके जैन ने बताया कि अभी तारीख तय नहीं हुई कि कब राष्ट्रध्वज तिरंगा यहां पर लगाया जाएगा, हमसें स्थान तय करने को कहा था, हमनें नक्शा फायनल कर दिया है।
जानकारी के मुताबिक नागरिकों में राष्ट्र के प्रति सम्मान और देशभक्ति की भावना को जाग्रत करने के लिए स्टेशनों पर तिरंगा झंडा लगाए जा रहे हैं। चूंकि स्टेशन एक ऐसी जगह है जहां पर प्रतिदिन सैकड़ों लोगों का आवागमन होता है।
भोपाल में फहराता है विश्व का पांचवां सबसे ऊंचा झंडा
विश्व का पांचवा सबसे ऊंचा तिरंगा राजधानी में ही फहराया जा चुका है। इसे 27 मई 2015 को फहराया गया था। वल्लभ भवन के सामने सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में 90 लंबा और 60 फीट चौड़ा और 235 फीट ऊंचा तिरंगा है।
नीचे उतारने की जरूरत नहीं
जानकारों के अनुसार इतनी अधिक ऊंचाई पर तिरंगे को फहराने को स्मारकीय ध्वज के रूप में जाना जाता है। इसे कभी नीचे नहीं उतारा जाता और सूर्यास्त होने के बाद भी उसे रोशन रखा जाता है। तिरंगे की आचार सिंहता के तहत सौ फीट से ऊंचा तिरंगा रात में भी फहराया जा सकता है।
रेलवे बोर्ड ने 22 अक्टूबर 18 को जारी किए थे आदेश
रेलवे ने 22 अक्टूबर 2018 को आदेश जारी कर 75 ए क्लास रेलवे स्टेशनों पर 100 फीट ऊंचाई पर तिरंगा झंडा फहराने के निर्देश दिए थे। इसके बाद आदेश को अन्य स्टेशनों के लिए भी जारी किया गया।
इनका कहना है
रेलवे बोड के निर्देश है कि स्टेशनों पर तिरंगा झंडा 100 फीट ऊंचाई का लहराया जाए। भोपाल स्टेशन पर तिरंगा फहराया जा चुका है, अभी होशंगाबाद में भी फहराया जाएगा। अन्य बचे हुए सभी स्टेशनों पर कुछ महीनों में तिरंगा झंडा लग जाएगा।
आईएम सिद्घीकी, पीआरओ, भोपाल रेल मंडल
17 आईटी 04
इटारसी। हमारा तिरंगा झंडा।
17 आईटी 05
इटारसी। होशंगाबाद स्टेशन पर इस जगह पर लगाया जाएगा तिरंगा झंडा।
  
Jul 15 (23:43) इस महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन पर नहीं है सुरक्षा के संसाधन (www.patrika.com)
WR/Western
0 Followers
741 views

News Entry# 386832  Blog Entry# 4378866   
  Past Edits
Jul 15 2019 (23:43)
Station Tag: Nagda Junction/NAD added by GWL~/1806106
Stations:  Nagda Junction/NAD  
Posted by: GWL~ 32 news posts
नागदा. दिल्ली-मुंबई रेलवे रूट का महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन है नागदा जंक्शन। यहां से उज्जैन, इंदौर सहित भोपाल व अन्य नगरों के लिए सीधी ट्रेन सुविधा है, लेकिन इस स्टेशन पर सुरक्षा के जो मानक होने चाहिए वे नहीं हैं। यहां कोई भी व्यक्ति बेखौफ बिना सुरक्षा जांच के घूम सकता है। कारण स्टेशन पर सुरक्षा के लिए लगाई गई मेटल डिटेक्टर मशीन खराब होना है।
हाल ही बात करें तो जीआरपी चौकी नागदा में पुलिसकर्मियों व ऑटो संचालकों की भिंड़त हो गई थी। मामले में जीआरपी के आला अधिकारियों ने जीआरपी थाना शामगढ़ के टीआइ सुरेश बलराज व नागदा चौकी प्रभारी कैरमसिंह डाबर, एक प्रधान आरक्षक रवि शंकर रघुवंशी व आरक्षक नरेंद्र परमार को निलंबित किया था। मामले में चार लोग
...
more...
निलंबित हो चुके हैं। परेशानी यह है कि चार पुलिस वालों के निलंबन के बावजूद स्टेशन पर किसी प्रकार के सुरक्षा इंतजामों को पुख्ता नहीं किया जा सका है।
मेटल डिटेक्टर खराब
प्लेटफॉर्म नंबर पर मौजूद प्रवेश द्वारा पर दो मेटल डिटेक्टर मशीन स्थापित की गई है। मशीन स्टेशन पर पहुंचने वाले यात्रियों की सुरक्षा जांच जिसमें किसी प्रकार का हथियार ले जाए जाने की जांच करना है, लेकिन स्टेशन पर मौजूद दो मशीनों में से एक ही मशीन ठीक प्रकार से कार्य कर रही है। दूसरी ओर नियमानुसार उक्त मशीन के समीप एक पुलिस जवान को खड़ा रहकर यात्रियों की जांच करने का नियम है, लेकिन स्टेशन परिसर में इस प्रकार की कोई व्यवस्था देखने को नहीं मिल रही।
चौकी बाहर ही विश्राम करते हैं यात्री
दिल्ली-मुंबई रेल रूट का प्रमुख जंक्शन होने के साथ ही स्टेशन से प्रतिदिन करीब 15 हजार रेल यात्री सफर करते हैं। स्टेशन पर दो चौकी हैं, लेकिन जीआरपी चौकी के बाहरी परिसर की ओर ही रेल यात्री बैठकर ट्रेन के आने का इंतजार करते दिखाई देते हैं। चलिए यात्रियों को हम दोष नहीं दे रहे, लेकिन यदि चौकी में बंद कोई अपराधी पुलिस पकड़ से भागने में कामयाब हो जाए और किसी यात्री पर हमला कर दें तो इसकी जिम्म्मेदारी कौन लेगा। यह किसी को नहीं पता है।
संबंधित का अलर्ट किया जाएगा
मामले की सूचना आपसे मिली है। यदि सुरक्षा व्यवस्था में इस प्रकार की अनदेखी की जा रही है, तो संबंधित प्रभारी को अलर्ट करेंगे।
राकेश खाका, एएसपी, जीआरपी इंदौर
  
Jul 15 (23:40) उज्जैन | रेलवे सोमवार से नया एप्लीकेशन रेल मदद शुरू (www.bhaskar.com)
WR/Western
0 Followers
777 views

News Entry# 386831  Blog Entry# 4378855   
  Past Edits
Jul 15 2019 (23:40)
Station Tag: Ujjain Junction/UJN added by GWL~/1806106
Stations:  Ujjain Junction/UJN  
Posted by: GWL~ 32 news posts
उज्जैन | रेलवे सोमवार से नया एप्लीकेशन रेल मदद शुरू करने जा रहा है। ट्रेन, स्टेशन, प्लेटफाॅर्म या रेलवे के महकमों से जुड़ी समस्याओं को लेकर यात्रियों को अलग-अलग हेल्पलाइन नंबर, पोर्टल पर जाने की बजाए रेल मदद एप पर शिकायत दर्ज करना होगी। हालांकि शिकायतों के प्रकार के मान से समय तय किया है लेकिन रेलवे का दावा है कि अधिकतम 4 घंटे में शिकायत को दूर कर दी जाएगी।
  
इंदौर। इंदौर रेलवे स्टेशन जल्द ही मध्य भारत का पहला ऐसा स्टेशन बनने जा रहा है जहां एयरपोर्ट की तर्ज पर पार्किंग व्यवस्था होगी। इसके तहत यहां के आइलैंड प्लेटफॉर्म के बाहर वाहन चालकों से आठ मिनट से ज्यादा रुकने पर ही चार्ज वसूला जाएगा। इंदौर स्टेशन पर रोजाना हो रहे पार्किंग विवाद से निजात पाने के लिए कमर्शियल विभाग ने रतलाम मंडल को इंदौर रेलवे स्टेशन की नई पार्किंग पॉलिसी का प्रस्ताव बनाकर दिया है। जल्द ही पार्किंग के लिए नई गाइड लाइन जारी होगी। प्रयोग सफल होने के बाद इसे पूरे इंदौर स्टेशन पर लागू किया जाएगा। अभी यह सुविधा अहमदाबाद रेलवे स्टेशन पर है। यह देश का पहला ऐसा स्टेशन है जहां इस तरह की यूनिफाइड पार्किंग व्यवस्था है।
इंदौर
...
more...
रेलवे स्टेशन के कमर्शियल विभाग के एसीएम अतुल त्रिपाठी ने बताया कि प्रस्ताव में यात्री को छोड़ने और लाने के लिए आने वाले निजी व कमर्शियल वाहन के चालकों से पिक एंड ड्रॉप के लिए आठ मिनट का फ्री समय दिया जाएगा। आठ मिनट बाद पार्किंग शुल्क लिया जाएगा। आइलैंड प्लेटफॉर्म के बाहर अकसर ऑटो चालक यात्रियों के लिए डेरा जमाए बैठे रहते हैं। इससे ट्रैफिक जाम के कारण यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। रतलाम मंडल के अधिकारियों के मुताबिक पार्किंग का नया प्रस्ताव पास होने के बाद वाहन चालक आठ मिनट ही रेलवे परिसर में खड़े रह सकेंगे।
एक नंबर गेट से एंट्री और दो नंबर से होगी निकासी
आईलैंड प्लेटफॉर्म पर कुल तीन गेट हैं। इनमें एक आने व दो गेट जाने के लिए है। यहां पार्किंग का ठेका तीन लोगों के पास होने से कोई भी वाहन चालक किसी भी गेट से अंदर-बाहर आना-जाना करते हैं। इससे बाहर ट्रैफिक जाम होता है। नई पार्किंग पॉलिसी लागू होने के बाद एक गेट से वाहन अंदर आएंगे, जहां से वाहन चालक को एयरपोर्ट पार्किंग की तरह पार्किंग स्लिप दी जाएगी। इस पर आने का समय लिखा होगा। वहीं प्लेटफॉर्म के अन्य दो गेट से बाहर जाने का रास्ता होगा जहां स्लिप दिखाना होगा। प्रस्ताव में यह भी कहा गया है कि पार्किंग का ठेका किसी एक ही व्यक्ति को दिया जाए, ताकि पार्किंग संचालन में परेशानी और विवाद की स्थिति न बने।
पहले ट्रायल लिया, फिर प्रस्ताव बनाया
कमर्शियल विभाग के अनुसार प्रस्ताव भेजने से पहले व्यवस्था का ट्रायल लिया गया था। कमर्शियल विभाग के दो अधिकारियों ने पहले चार पहिया वाहन से, इसके बाद दो पहिया वाहन से और आखिर में ऑटो रिक्शा में तीन सूटकेस ले जाकर प्लेटफॅार्म पर आना-जाना किया। यहां पिक एंड ड्रॉप में चार मिनट से भी कम समय लगा, लेकिन पार्किंग में समय को लेकर विवाद न हो, इसके लिए प्रस्ताव में समय को दोगुना किया गया है। डीआरएम आरएन सुनकर के मुताबिक पार्किंग पॉलिसी को लेकर नया प्रस्ताव आया है। इसके लिए टेंडर जारी किए जाने हैं।
Page#    32 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy