Timeline
 Travel Tip
 Trip
 Race
 Social
 Greeting
 Poll
 Img
 PNR
 Pic
 Blog
 News
 Conf TL
 RF Club
 Convention
 Monitor
 Admin
 Followed
 Rating
 HJ
 Vote
 Pred
 @
 FM Alert
 FM Approval
 Pvt
News Super Search
 ↓ 
×
Member:
Posting Date From:
Posting Date To:
Category:
Zone:
Language:
IR Press Release:

Search
  Go  
Full Site Search
  Full Site Search  
 
Tue Oct 23 14:50:56 IST
Home
Trains
ΣChains
Atlas
PNR
Forum
Gallery
News
FAQ
Trips
Login
Feedback
Advanced Search
Page#    344874 news entries  next>>
  
Yesterday (17:16) Train with 53 bogies carrying track-ballast arrives in Janakpur (thehimalayantimes.com)
Commentary/Human Interest
INT/International
0 Followers
896 views

News Entry# 365954  Blog Entry# 3927747   
  Past Edits
Oct 22 2018 (17:18)
Station Tag: Janakpur/JNKPE added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 22 2018 (17:18)
Station Tag: Pakur/PKR added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
Stations:  Pakur/PKR   Janakpur/JNKPE  
Nepal | October 22, 2018
Train with 53 bogies carrying track-ballast arrives in Janakpur
DHANUSHA: A train with 53 bogies carrying ballast for tracks has arrived in Janakpur on Friday. The train came from Pakhaur, Jharkhand of India.
Railway and Metro Development Project Site Office’s chief engineer Binod Kumar Ojha said the second consignment of the ready-to-use ballast was brought from Jharkhand by the
...
more...
goods train.
The construction of three halts and five stations of the railway is in its final stage. The broad-gauge railway is being constructed with the support of the Government of India up to Kurtha of Dhanusha district.
Railway engineers have said preparations have started for the ‘final touch’ for operating passenger train on the Jayanagar-Janakpur sector. Works are in progress for operating train service on the 69-kilometre Jayanagar (India)-Bardibas railway.
Ircon International Limited of India constructed the broad-gauge railway track. Prior to this, train service on the Jayanagar-Janakpur-Bijalpura (52 kilometres) section of the narrow-gauge track operated at a speed of 20-25 kilometres per hour. The 35 kilometres distance between Jayanagar to Kurtha would be covered in half an hour with the operation of train service on the broad-gauge railway.

  
177 views
Today (12:07)
Anupam Enosh Sarkar*^~   13836 blog posts   42423 correct pred (87% accurate)
Re# 3927747-1            Tags   Past Edits
Ballast Train from Pakur that reached Janakpur in Nepal.
  
Today (13:56) मार्च से भागलपुर-दिल्ली सुपर फास्ट ट्रेन गया-नवादा होकर दिल्ली जाएगी (www.bhaskar.com)
Commentary/Human Interest
ER/Eastern
0 Followers
380 views

News Entry# 366143  Blog Entry# 3930580   
  Past Edits
Oct 23 2018 (13:57)
Train Tag: New Delhi - Bhagalpur Weekly SF Express/12350 added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: New Delhi/NDLS added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Bhagalpur Junction/BGP added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Sheikpura/SHK added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Warisale Ganj/WRS added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Nawadah/NWD added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Gaya Junction/GAYA added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Luckeesarai Junction/LKR added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739

Oct 23 2018 (13:57)
Station Tag: Kiul Junction/KIUL added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
118 साल पहले शुरू केजी रेल लाइन पर सोमवार को पहली बार इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेन दौड़ी। उद्घाटन करने आए रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने नवादा से दिल्ली के लिए ट्रेन चलाने की घोषणा की। 120 दिन बाद भागलपुर से दिल्ली जाने वाली 12349 भागलपुर-दिल्ली सुपर फास्ट ट्रेन नवादा होकर दिल्ली जाएगी। नवादा रेल मार्ग से पटना को जोड़ने के लिए नवादा-पावापुरी के बीच नई रेल लाइन बनाने के लिए सर्वे कराने की भी घोषणा की गई। किउल-गया रेल लाइन के विद्युतीकरण हो जाने के बाद मेमू पैसेंजर रेल सेवा शुरू हो गई। मनोज सिन्हा ने नवादा स्टेशन पर ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
अब बीमा क्षेत्र में भी उतरेगा डाक विभाग, इंश्योरेंस कंपनी बनाएगा
पटना|
...
more...
डाक विभाग अब बीमा क्षेत्र में भी दस्तक देगा और बड़ी कंपनियों से प्रतिस्पर्धा करेगा। केन्द्रीय दूरसंचार व रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने इसकी घोषणा की। उन्होंने कहा है कि डाक विभाग की अपनी इंश्योरेंस कंपनी होगी, लेकिन पूरी तरह अलग ढंग से काम करेगी। इसका पूरा सिस्टम अलग होगा और प्रतिस्पर्धी तरीके से काम करेगा। मंत्री सोमवार को पटना स्थित डाक मनोरंजन केन्द्र का नाम भारत र| महामना पं. मदन मोहन मालवीय के नाम पर करने के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस समय डाक विभाग डाक जीवन बीमा या ग्रामीण डाक बीमा के रूप में यह काम करता है। लेकिन यह विभाग के अधीन ही काम करता है। इसके कर्मचारी भी डाक विभाग के ही होते हैं। मंत्री ने कहा कि इस समय डाक बीमा का प्रीमियम भी सबसे कम है और बोनस सर्वाधिक।

  
154 views
Today (14:28)
12173 🌠 Udyog Nagri 🌠 12174   453 blog posts
Re# 3930580-1            Tags   Past Edits
13429/30 hoti to jyada badhia rahta.
  
Today (14:19) Delhi's Metro-men begin survey for high-speed CSMT-Thane line (www.mid-day.com)
New Facilities/Technology
CR/Central
0 Followers
246 views

News Entry# 366153  Blog Entry# 3930652   
  Past Edits
Oct 23 2018 (14:19)
Station Tag: Thane/TNA added by 🚆Bhartiya Rail🚆/1476716

Oct 23 2018 (14:19)
Station Tag: Mumbai CSM Terminus/CSTM added by 🚆Bhartiya Rail🚆/1476716
Stations:  Thane/TNA   Mumbai CSM Terminus/CSTM  
Team from capital in city for 3 days to study feasibility of 32-km underground suburban line that will be independent of existing linesOfficials plan to conduct a passenger count at entry-exit points of CSMT and four other stations as part of the study Movement has finally begun on an underground hi-speed suburban rail corridor on the 32-km stretch between Mumbai CSMT and Thane — a three-day feasibility study will be conducted at city stations from today. Entry-exit points of five major stations will be studied. Sources said work of the study has been given out to the Delhi Metro Rail Corporation, and a team of officials...
more...
will be making passenger count at entry-exit points of five major stations on CR between 6 am and 11 pm. The stations are CSMT, Dadar, Kurla, Ghatkopar and Thane. The study at CSMT and other stations will start today A senior official said this is a proposed hi-speed suburban corridor that is separate from the existing suburban railway system. "It will be a humongous project if it moves ahead. What has begun is a study to assess its utility and enormity. One needs a good amount of data, real-time statistics and counts before any planning begins," an official said. He added that the plan is to have a parallel underground high-speed corridor, and the feasibility study will envisage the passenger count and other relevant data and projections for the same."The work has been sanctioned by the railway board, and entrusted to the Delhi Metro Rail Corporation. The Mumbai Rail Vikas Corporation (MRVC) is only the coordinating body," an MRVC official said. MRVC Chief Planning Officer and spokesperson Sanjay Singh confirmed the development and said MRVC was facilitating the project. Catch up on all the latest Crime, National, International and Hatke news here. Also download the new mid-day Android and iOS apps to get latest updates

  
265 views
Today (14:20)
🚆Bhartiya Rail🚆   1023 blog posts   458 correct pred (79% accurate)
Re# 3930652-1            Tags   Past Edits
Will an underground hi-speed rail corridor below the existing railway be feasible in Mumbai? A ground study begins between CSMT-Thane on Central_Railway today. story in mid_day today. Click here
  
Today (14:16) छठ तक रेलवे कर्मचारियों को नहीं मिलेगी छुट्टी, 14 नवंबर तक छुट्टियां रद (www.jagran.com)
IR Affairs
ECR/East Central
0 Followers
234 views

News Entry# 366152  Blog Entry# 3930645   
  Past Edits
Oct 23 2018 (14:17)
Station Tag: Dhanbad Junction/DHN added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
Stations:  Dhanbad Junction/DHN  
जागरण संवाददाता, धनबाद: रेलवे के रनिंग कर्मचारियों को 14 नवंबर तक छुट्टी नहीं मिलेगी। 16 अक्टूबर से 14 नवंबर तक त्योहारी सीजन के दौरान यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी और ट्रेनों के अत्यधिक दबाव के मद्देनजर धनबाद रेल मंडल ने छुट्टियां रद कर दी है। डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा के निर्देश पर कार्मिक विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। आपातकालीन परिस्थितियों में संबंधित विभाग के अधिकारी अवकाश संबंधी निर्णय ले सकते हैं।
  
Today (14:16) कभी न भरने वाले जख्मों पर पांच लाख रुपये का मरहम, पीडि़त बाेले- यह कीमत लेकर क्‍या करेंगे (www.jagran.com)
Commentary/Human Interest
NR/Northern
0 Followers
206 views

News Entry# 366151  Blog Entry# 3930644   
  Past Edits
Oct 23 2018 (14:16)
Station Tag: Amritsar Junction/ASR added by Anupam Enosh Sarkar*^~/401739
Stations:  Amritsar Junction/ASR  
जेएनएन, अमृतसर। जोड़ा फाटक पर दशहरा पीडितों के कभी न भरने वाले जख्‍मों पर सरकार ने पांच-पांच लाख रुपये के मुआवजे का मरहम लगाया है। इसके साथ ही सरकार पीडित परिवारों को नौकरियां देने और उनके बच्‍चों की शिक्षा की व्‍यवस्‍था करने पर भी विचार कर रही है। दूसरी अोर, पी‍डि़त परिवारों का कहना है कि अपनी की मौत की यह कीमत लेकर क्‍या करेंगे। परिवार का सहारा ताे चला गया अब पूरी जिंदगी कैसे कटेगी। रेल हादसे में मारे गए 21 लोगों के परिवारों को सोमवार को मुआवजा राशि के चेक दिए गए। गुरदासपुर से सांसद सुनील जाखड़ ने पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ब्रह्म मोंहिंदरा, राजस्व मंत्री सुखिबिंदर सिंह सुख सरकारिया और स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने स्थानीय सर्किट हाउस में पीडि़त परिवार को पांच-पांच लाख रुपये के चेक सौंपे। सुनील जाखड़ ने कहा कि पीडि़त हौसला रखें, सरकार उनके साथ है। सेहत मंत्री ब्रह्म मोहिंदरा ने कहा...
more...
कि मुख्यमंत्री चाहे सरकारी दौरे पर विदेश में हैं, लेकिन वह कई-कई बार फोन कर घायलों के इलाज और परिवारों के पुनर्वास की कार्य के बारे में जानकारी ले रहे हैं। घायलों को अस्तपालों में भर्ती करवाने के बाद प्रशासन ने कोर गए लोगों के परिवारों का पता लेने का काम शुरू किया है। लगातार दो दिनों में अधिकारियों ने हादसे में मारे गए 21 पीडि़त परिवारों की कानूनी तौर पर पहचान की। अन्य सदस्यों के वारिसों की पहचान अगले एक-दो दिनों में कर उन्हें भी सरकारी मदद दी जाएगी। राजस्व मंत्री सुखबिंदर सिंह सुख सरकारिया ने बताया कि वारिसों की संख्या के हिसाब से राशि का वितरण बराबर हिस्सों में होगा। जल्द ही बाकी परिवारों को भी राशि दे दी जाएगी। अमृतसर हादसे में मारे गए लोगों को कैंडल जलाकर श्रद्धांजलि देते लोग।
पीडि़त बोले- हमारे तो कमाने वाले ही चले गए
दशहरा पर्व की संध्या जोड़ा फाटक के निकट रेल हादसे का शिकार हुए लोगों के परिजनों का दर्द आंखों के रास्ते बह रहा है। उन्हें सर्किट हाउस में मुआविजा राशि के चेक का भुगतान करने के लिए प्रशासन की ओर से बुलाया गया तो उनका दर्द फिर छलक पड़ा। इनमें से ज्यादा लोगों ने कहा कि उनके पूर्वजों ने रेल से लोगों को काटे जाने का मंजर बंटवारे के समय देखा था और उन्होंने तो यह सिर्फ श्री दरबार साहिब के अजायब घर में देखा था। लेकिन उन्हें पता नहीं था कि उन्हें अपनी असल जिंदगी में यह दिख देखने पड़ेंगे और अपनों को ही रेल की पटरी पर खून से लथ-पथ हालत में उठाना होगा।
कृष्णा नगर निवासी बुजुर्ग बीना देवी का कहना है कि पांच लाख रुपये लेकर वह क्या करेंगी, उसके बेटे की मौत ने तो परिवार को ही तोड़ कर रख दिया है। अब तो जीने का ही मन नहीं। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने उसके बेटे की कीमत पांच लाख रुपये लगाई है, लेकिन उसके लिए उसका बेटा हीरे से कम नहीं था। क्योंकि उसी से ही उसका संसार था। रामानंद बाग निवासी नंद किशोर की पत्नी विम्मी के तो आंसू ही रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। उसने बताया कि सरकार को इसमें उनका सहारा बन कर उभरना चाहिए। सिर्फ ५ लाख रुपये बेटे रोहित शर्मा की कीमत देकर ही अपनी जिम्मेवारी से मुक्त नहीं समझना चाहिए। वहीं नंद किशोर ने बताया कि उन्होंने एसा मंजर कई साल पहले श्री दरबार साहिब के आजायब घर में भारत-पाक के बंटवारे का देखा था। उन्हें क्या पता था कि इसी तरह उन्हें अपने बेटे को तेज रफ्तार गाड़ी से मरते देखना पड़ेगा।
पीड़ित परिवारों को नौकरी देने पर विचार
चंडीगढ़। अमृतसर में दशहरे के दिन हुए हादसे में 116 परिवार प्रभावित हुए। वहीं, पंजाब सरकार पीड़ित परिवारों को नौकरी, शैक्षणिक सेवाएं देने पर विचार कर रही है, ताकि प्रभावित परिवार का पुनर्वास किया जा सके। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इजराइल के तेल अवीव से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये स्थिति का जायजा लिया व कानून-व्यवस्था की भी समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को पीड़ितों और उनके परिवारों को राहत व मुआवजा जल्दी बांटने के आदेश दिए।
मुख्यमंत्री को अपने मुख्य प्रमुख सचिव सुरेश कुमार के अलावा अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर कमलदीप सिंह संघा और पुलिस कमिश्नर सुधांशु श्रीवास्तव से भी बात की। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को पीड़ितों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति का ब्योरा जल्द जुटाने को कहा है, ताकि पुनर्वास के काम को पहल के आधार पर अमल में लाया जा सके। डिप्टी कमिश्नर और पुलिस कमिश्नर ने बताया कि राहत व पुनर्वास का काम योजनाबद्ध ढंग से चलाया जा रहा है, जिससे जरूरत के मुताबिक नौकरियां, पेंशन व शैक्षिक सहायता आदि का पता लगाया जा सके।
Page#    344874 news entries  next>>

Scroll to Top
Scroll to Bottom
Go to Mobile site
Important Note: This website NEVER solicits for Money or Donations. Please beware of anyone requesting/demanding money on behalf of IRI. Thanks.
Disclaimer: This website has NO affiliation with the Government-run site of Indian Railways. This site does NOT claim 100% accuracy of fast-changing Rail Information. YOU are responsible for independently confirming the validity of information through other sources.
India Rail Info Privacy Policy